scorecardresearch
 

Farmers Protest: कृषि मंत्री की बातचीत की पेशकश के बावजूद क्यों नहीं मान रहे किसान?

Farmers Protest: कृषि मंत्री की बातचीत की पेशकश के बावजूद क्यों नहीं मान रहे किसान?

कृषि कानून के विरोध में जारी किसानों के आंदोलन का आज नया पड़ाव शुरू हो गया है. किसानों का जत्था जंतर मंतर पहुंच चुका है. प्रदर्शन शुरू हो चुका है. दिल्ली के जंतर-मंतर पर 200 किसान आज से रोजाना प्रदर्शन करेंगे, ये आंदोलन किसान संसद की तरह होगा. दिल्ली पुलिस से किसानों को सुबह 11 से शाम 5 बजे तक प्रदर्शन करने की इजाजत मिली है. किसान संसद से नई लड़ाई का ये आगाज हुआ है. किसान संसद से आगे अब क्या होगी रणनीति. देखें कृषि मंत्री की बातचीत की पेशकश के बावजूद क्यों नहीं मान रहे किसान? कुमार कुणाल के साथ राकेश टिकैत की जंतर मंतर पर देखिए एक्सक्लूसिव बातचीत.

Today a new phase of the farmers' movement against the agriculture law has been started. On Thursday, farmers reached Jantar Mantar under police security. T200 farmers will demonstrate daily from today at Delhi's Jantar Mantar, this movement will be like a farmers' parliament. Farmers have been given permission from Delhi Police to protest from 11 am to 5 pm. This is the beginning of a new tussle with the Kisan Sansad. What will be the strategy ahead of Kisan Sansad? Why the farmers are not agreeing despite the Agriculture Minister's offer of dialogue? Watch Rakesh Tikait's exclusive conversation with correspondent Kumar Kunal at Jantar Mantar.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें