scorecardresearch
 

'मुंबई तक' के खुलासेे के बाद कंगना को डिलीट करना पड़ा अपना ही ट्वीट

'मुंबई तक' के खुलासेे के बाद कंगना को डिलीट करना पड़ा अपना ही ट्वीट

ट्विटर पर धमाका करने वाली कंगना को अपना एक ट्वीट डिलीट करना पड़ा है. दरअसल, कंगना ने एक इंग्लिश न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में दावा किया था कि उन्हें शिवसेना को वोट देने के लिए मजबूर किया गया था क्योंकि शिवसेना-बीजेपी के साथ गठबंधन में थी. लेकिन 'मुंबई तक' ने कंगना के इस दावे की जांच की तो पता चला कि कंगना बांद्रा वेस्ट निर्वाचन क्षेत्र से मतदाता हैं. 2019 विधानसभा चुनाव में बीजेपी से आशीष शेलर उम्मीदवार थे और शिवसेना गठबंधन में थी. इसके अलावा, 2019 के लोकसभा चुनावों में, बीजेपी और शिवसेना ने मिलकर चुनाव लड़ा, लेकिन बीजेपी की पूनम महाजन ने मुंबई नॉर्थ सेंट्रल सीट से चुनाव लड़ा. यानी कंगना के पास बीजेपी के लिए वोट करने का विकल्प था, शिवसेना को वोट देने की मजबूरी नहीं थी. इससे पहले 2014 में भी कंगना के इलाके में बीजेपी उम्मीदवार थे ना कि शिवसेना के. कंगना का सामना जब इस जानकारी से हुआ तो पहले उन्होंने ट्वीट कर कानूनी कार्रवाई की चेतावनी दी फिर सच्चाई को समझते हुए उन्होंने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया.

Actress Kangana Ranaut had to delete her tweets after India Today Group's Marathi web channel Mumbai Tak pointed out some factual errors in the actress's claims. In an interview to an English News Channel, Kangana Ranaut had claimed that 'she was forced to vote for Shiv Sena' as the BJP was in alliance with the party. Mumbai Tak fact-checked Kangana's claims and reported that the actress did have the option to vote for BJP, contrary to her statement.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें