scorecardresearch
 

केंद्रीय मंत्री श्रीपद नाइक की स्थिति सुधरी, AIIMS की टीम ने कहा- हटा सकते हैं वेंटिलेटर

केंद्रीय मंत्री श्रीपद नाइक की सेहत का जायजा लेने के लिए दिल्ली एम्स की एक टीम गोवा मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल ( GMCH) गई थी. इसी अस्पताल में केंद्रीय मंत्री का इलाज हो रहा है.

श्रीपद नाइक हादसे में गंभीर रूप से घायल हो गए हैं (फाइल फोटो- पीटीआई) श्रीपद नाइक हादसे में गंभीर रूप से घायल हो गए हैं (फाइल फोटो- पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सोमवार को दुर्घटना में घायल हुए थे केंद्रीय मंत्री
  • हादसे में पत्नी विजया की हो गई मौत
  • श्रीपद नाइक की हुई चार सर्जरी

सोमवार को जानलेवा हादसे के शिकार केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री श्रीपद नाइक की स्थिति में सुधार हो रहा है. दिल्ली से गोवा गई AIIMS डॉक्टरों की टीम ने कहा है कि उनके सारे बॉडी पैरामीटर्स संतोषजनक हैं और उन्हें वेंटिलेटर से हटाया जा सकता है. 

सोमवार को भयानक कार हादसे में श्रीपद नाइक और उनकी पत्नी विजया बुरी तरह से घायल हो गए थे. बाद में इस हादसे में उनकी पत्नी की मौत हो गई थी. 

केंद्रीय मंत्री श्रीपद नाइक की सेहत का जायजा लेने के लिए दिल्ली एम्स की एक टीम गोवा मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल ( GMCH) गई थी. इसी अस्पताल में केंद्रीय मंत्री का इलाज हो रहा है. एम्स की टीम मंगलवार देर शाम को वहां पहुंची थी. देर रात पत्रकारों से बात करते हुए एम्स डॉक्टरों की टीम ने कहा कि श्रीपद नाइक ठीक तरह से सांस ले रहे हैं, उनका रक्त चाप ठीक है. AIIMS की टीम ने कहा है कि अब उन्हें वेंटिलेटर से हटाया जा सकता है.

देखें: आजतक LIVE TV

श्रीपद नाइक की स्थिति देखने के बाद AIIMS के डॉक्टरों की टीम ने GMCH के डॉक्टरों से विचार विमर्श किया और उपचार को लेकर चर्चा की. इस दौरान गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत भी मौजूद थे. 

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह मंगलवार को जीएमसीएच पहुंचे और केंद्रीय मंत्री का हालचाल जाना. राजनाथ सिंह ने कहा कि उनकी स्थिति स्थिर है और वह खतरे से बाहर हैं. 

बता दें कि 68 वर्षीय श्रीपद नाइक सोमवार को गंभीर सड़क हादसे में बुरी तरह से घायल हो गए. कर्नाटक के उत्तर कन्नड जिले के पास अंकोला में उनकी कार दुर्घटनाग्रस्त हो गई. श्रीपद नाइक अपनी पत्नी समेत कर्नाटक के धर्मस्थल से अपने गृह राज्य गोवा लौट रहे थे. हादसे में बुरी तरह चोटिल उनकी पत्नी की मौत हो गई. 

जीएमसीएच के डीन डॉ. शिवानंद बांदेकर ने मंगलवार को बताया कि जब उन्हें जीएमसीएच लाया गया था तो उनकी हालत गंभीर थी, लेकिन इलाज का असर होने के बाद उन्हें होश आया. डॉक्टरों ने उनपर चार सर्जरी की है. 

डॉ. शिवानंद बांदेकर ने कहा कि श्रीपद नाइक अभी 10 से 15 दिन अस्पताल में ही रहेंगे. इसके बाद उन्हें पूरी तरह ठीक होने में 3 से 4 महीने लगेंगे. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें