scorecardresearch
 

J-K: सुरक्षा बलों को बड़ी सफलता, शिक्षकों की हत्या करने वाले आतंकी समेत 3 ढेर

ढल्ला दो शिक्षकों सुपिंदर कौर और एक पंडित शिक्षक की हत्या में शामिल था. श्रीनगर में आम नागरिक की हत्याओं में भी उसकी अहम भूमिका थी. पूरे कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ सुरक्षाबलों का ताबड़तोड़ प्रहार जारी है.

मुठभेड़ में मारे गए तीन आतंकी मुठभेड़ में मारे गए तीन आतंकी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, कश्मीर में मारे गए तीन आतंकी
  • शिक्षक की हत्या करने वाला आतंकी भी हुआ ढेर

कश्मीर घाटी में आतंकवाद के खिलाफ सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली है. श्रीनगर के रामबाग में हुए मुठभेड़ में बुधवार को तीन दहशतगर्द मारे गए हैं. रामबाग में मारे गए तीन आतंकवादियों में से एक की पहचान टीआरएफ के शीर्ष कमांडर मेहरान ढल्ला के रूप में हुई है. 

ढल्ला दो शिक्षकों सुपिंदर कौर और एक पंडित शिक्षक की हत्या में शामिल था. श्रीनगर में आम नागरिक की हत्याओं में भी उसकी अहम भूमिका थी. पूरे कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ सुरक्षाबलों का ताबड़तोड़ प्रहार जारी है. 

मारे गए दूसरे आतंकी की पहचान मंजूर अहमद मीर के रूप में हुई है जबकि तीसरे की पहचान अभी नहीं हो पाई है. तीसरे आतंकी की पहचान को लेकर आईजीपी विजय कुमार ने बताया कि अभी घटना स्थल पर मृत आतंकी का परिवार नहीं पहुंचा है इसलिए उसकी शिनाख्त नहीं हो पाई है.

इस ऑपरेशन को लेकर जम्मू-कश्मीर पुलिस के डीजीपी दिलबाद सिंह ने बताया कि मुठभेड़ के दौरान किसी आम नागरिक की जान नहीं गई है.

बता दें कि आतंकियों द्वारा आम नागरिकों की हत्या कर डर का माहौल बनाने की कोशिश करने के बाद सुरक्षा बलों ने अपने अभियान को और तेज कर दिया है.

शनिवार को कुलगाम में भी सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को मार गिराया था. कुलगाम में ये मुठभेड़ सेना के जवानों और आतंकियों के बीच हुई थी.

एक कार्यक्रम के दौरान जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा था कि कुछ लोग घाटी में माहौल खराब करने का काम करते हैं. उन्होंने सभी को आश्वासन दिया है कि आने वाले दो सालों में घाटी से आतंकवाद का सफाया हो जाएगा.

ये भी पढ़ें:


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें