scorecardresearch
 

नोएडा: श्रीकांत त्यागी पर दफा 307 में भी दर्ज है केस, पत्नी ने दर्ज कराया है मुकदमा

नोएडा की ग्रैंड ओमेक्स सोसायटी में रहने वाले श्रीकांत त्यागी ने पेड़ लगाने के विवाद में महिला से गालीगलौज और बदसलूकी की थी. घटना का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस एक्शन में आ गई और श्रीकांत त्यागी पर एफआईआर दर्ज की गई. नोएडा पुलिस ने श्रीकांत की लग्जरी कारों को जब्त किया है.

X
नोएडा में श्रीकांत ने सोसायटी की एक महिला से बदसलूकी की.
नोएडा में श्रीकांत ने सोसायटी की एक महिला से बदसलूकी की.

यूपी के नोएडा में महिला से बदसलूकी करने के मामले में आरोपी श्रीकांत त्यागी तीन दिन से फरार है. उसकी तलाश में जगह-जगह छापेमारी की जा रही है. इस बीच, पुलिस का शिकंजा भी कसता जा रहा है. पुलिस ने अब श्रीकांत की क्राइम हिस्ट्री निकालना शुरू कर दिया. एक केस तो श्रीकांत की पत्नी ने दर्ज करवाया था. श्रीकांत पर अब तक 5 केस दर्ज हो गए हैं. दो केस महिला से बदसलूकी के बाद दर्ज किए गए हैं.

बता दें कि नोएडा की ग्रैंड ओमेक्स सोसायटी में रहने वाले श्रीकांत त्यागी ने पेड़ लगाने के विवाद में महिला से गालीगलौज और बदसलूकी की थी. घटना का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस एक्शन में आ गई और श्रीकांत त्यागी पर एफआईआर दर्ज की गई. नोएडा पुलिस ने श्रीकांत की लग्जरी कारों को जब्त किया है. श्रीकांत त्यागी की एक फॉर्च्यूनर लखनऊ आरटीओ में रजिस्टर्ड है. उस पर उत्तर प्रदेश सरकार लिखा है. सरकार ने सिंबल का गलत दुरुपयोग किए जाने के मामले में भी कार्रवाई की है. 

श्रीकांत त्यागी पर अलग-अलग थानों में तीन केस दर्ज

गौतमबुद्धनगर पुलिस का कहना है कि श्रीकांत त्यागी की अपराधिक कुंडली खंगाली जा रही है. त्यागी पर नोएडा के अलग- अलग पुलिस स्टेशन में तीन अलग-अलग FIR दर्ज हैं. सेक्टर 39 पुलिस स्टेशन में IPC धारा 308 (गैर इरादतन हत्या करने का प्रयास) के तहत केस दर्ज है.

पुलिस को एक और चौंकाने वाली जानकारी मिली है. पुलिस ने बताया कि श्रीकांत पर धारा 307 (हत्या की कोशिश) का भी केस दर्ज है. ये केस श्रीकांत की पत्नी ने उसके खिलाफ दर्ज करवाया था. श्रीकांत पर एक और FIR नोएडा में दर्ज है. इसके अलावा, हाल ही में हुई वारदात के बाद श्रीकांत पर नोएडा में 2 FIR दर्ज की गई हैं. अब तक नोएडा में त्यागी के खिलाफ 5 FIR दर्ज हो चुकी हैं.

बीजेपी ने त्यागी के पार्टी नेता होने से इंकार किया

बता दें कि श्रीकांत त्यागी खुद को बीजेपी नेता होने का दावा करता था. हालांकि, घटना के बाद बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं ने इन दावों को खारिज कर दिया था.गौतमबुद्धनगर के बीजेपी जिलाध्यक्ष ने कहा कि वो हमारी पार्टी का नहीं है. कोई भी झंडा लगा सकता है. लेकिन जब हमें पता लगा तो हमने पुलिस को भी फोन किया. हमारा कार्यकर्ता नहीं है.

श्रीकांत की तलाश में लगीं टीमें

सोसायटी में महिला से बदसलूकी मामले में श्रीकांत फरार है. जबकि पुलिस ने उसकी पत्नी समेत चार को हिरासत में लिया था. श्रीकांत की पांच गाड़ियों को भी जब्त किया है. पुलिस का कहना है कि श्रीकांत की तलाश में चार टीमें गठित की गई है. अब तक कई ठिकानों पर पुलिस छापा मार चुकी है. श्रीकांत की गाड़ियों पर जो स्टिकर है, उसकी जांच की जा रही है. 

लखनऊ में जिस पते पर कार ली, वहां रहता कोई और...

श्रीकांत की फॉर्च्यूनर कार (UP 32 KK 0001) लखनऊ के गोमती नगर एक्सटेंशन स्थित Green wood अपार्टमेंट के H ब्लॉक के फ्लैट नंबर 207 के पते पर रजिस्टर्ड है. आजतक की टीम मौके पर पहुंची और अपार्टमेंट के आरडब्लूए दफ्तर में बैठे एक कर्मचारी से पूछा कि ये फ्लैट किसका है. बीते 3 महीने से काम कर रहे कर्मचारियों ने कहा कि फ्लैट अंकिता द्विवेदी का है. इस फ्लैट पर अंकिता द्विवेदी की नेम प्लेट लगी थी. अंदर फ्लैट में रिनोवेशन का काम चल रहा था. लेकिन लखनऊ आरटीओ दफ्तर के अनुसार, ये फ्लैट अभिनव वोरा का है. मतलब श्रीकांत त्यागी की कार के दस्तावेजों में अभिनव बोरा का नाम है, लेकिन उस फ्लैट में अंकिता द्विवेदी रह रही हैं. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें