scorecardresearch
 

'सीधी बात' में बोलीं महुआ मोइत्रा- बंगाल के बाद अगला लोकसभा चुनाव भी हारेगी BJP

प्रभु चावला के साथ बात करते हुए मोइत्रा ने दावा किया कि बंगाल चुनाव में हार मिलने के बाद बीजेपी को अगले लोकसभा चुनाव में भी हार मिलेगी.

महुआ मोइत्रा महुआ मोइत्रा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सीधी बात कार्यक्रम में शामिल हुईं मोहुआ मोइत्रा
  • महुआ ने खेला होबे को लेकर बीजेपी पर बोला हमला
  • 'अगला लोकसभा चुनाव भी बीजेपी हारेगी'

'सीधी बात' कार्यक्रम में तृणमूल कांग्रेस की सांसद महुआ मोइत्रा ने शनिवार को बीजेपी पर तीखा हमला बोला. प्रभु चावला के साथ बात करते हुए मोइत्रा ने दावा किया कि बंगाल चुनाव में हार मिलने के बाद बीजेपी को अगले लोकसभा चुनाव में भी हार मिलेगी. उन्होंने कार्यक्रम में एनएचआरसी प्रमुख, बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ समेत कइयों को निशाने पर लिया. मोइत्रा ने कहा कि जब हम लोग बच्चे थे, तब कभी सोच नहीं सकते थे कि बंगाल से सीपीएम की सरकार कभी हटेगी, लेकिन ममता बनर्जी ने करके दिखा दिया. देश में कोई बदलाव लाना है तो फिर ममता के ही रास्ते पर चलना होगा.  

टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा ने 'खेला होबे' नारे के बारे में कहा कि पार्टी से इस नारे को लेकर कोई गलती नहीं हुई है. बीजेपी बंगाल चुनाव में हर फेज के बाद कह रही थी कि हम 200 से ज्यादा सीटें जीत रहे हैं और सरकार बन रही है, लेकिन चुनाव के नतीजे अलग आए और टीएमसी की जीत हुई. ऐसे में खेला होबे के नारे के अनुसार ही हम मैदान में उतरे थे. बीजेपी को बंगाल से हटाने का खेल जीत चुके हैं, अब देश में यही करना चाहते हैं.  

तृणमूल कांग्रेस की सांसद ने हमला बोलते हुए कहा कि प्रधानमंत्री और गृह मंत्री को इतिहास के बारे में पढ़ना चाहिए और फिर तृणमूल कांग्रेस पर कोई आरोप लगाना चाहिए. हमारा काम उन्हें जवाब देने का नहीं है. वे अभी हार कर बंगाल से आए हैं और फिर 2024 में हारने वाले हैं. बीजेपी को यूपी, हिमाचल, उत्तराखंड देखना चाहिए. 

बंगाल में चुनाव के बाद हुई हिंसा को लेकर महुआ मोइत्रा ने कहा कि यदि किसी छोटे से गांव में भी हिंसा हो जाती है तो फिर उनकी तस्वीरें आतीं. आखिर क्यों बीजेपी के आईटी सेल के पास ही तस्वीरें क्यों आती हैं? एनएचआरसी के प्रमुख अरुण मिश्रा हैं, जोकि सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज हैं. उन्हें रिटायरमेंट के बाद तुरंत एनएचआरसी का चेयरमैन बना दिया गया. बीजेपी के लोग बंगाल के राज्यपाल के पास जा रहे हैं और वे रिपोर्ट एनएचआरसी को दे रहे हैं. देश की जनता को बीजेपी के सेटअप के बारे में पता चल गया है.    

दिल्ली को लीड करेंगी ममता बनर्जी?
तृणमूल कांग्रेस की सांसद महुआ मोइत्रा ने कहा कि अब सभी क्षेत्रीय दल दिल्ली की तरफ जा रहे हैं. हमने तय किया है कि जहां-जहां ताकतवर है, वहां पर चुनाव लड़ेंगे. बंगाल में टीएमसी ताकतवर है, एनसीपी-सेना ने महाराष्ट्र में जीत दर्ज की है, कांग्रेस राजस्थान, एमपी, उत्तराखंड आदि में ताकतवर है. इस तरह जो जहां से ताकतवर है, वहां से उसे जीतकर आना है. हम ऐसा नहीं कर सकते हैं कि कांग्रेस कब वापसी करेगी और तब तक इंतजार करेंगे. इस वजह से ममता बनर्जी सोमवार को दिल्ली आ रही हैं और सभी विपक्षी दल बात कर रहे हैं. 

क्या ममता बन सकती हैं प्रधानमंत्री?
महुआ मोइत्रा से जब सवाल पूछा गया कि क्या ममता बनर्जी प्रधानमंत्री बन सकती हैं तो उन्होंने कहा कि अगर पीएम मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री और अमित शाह गुजरात के गृह मंत्री होकर देश को अहमदाबाद म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन की तरह चला सकते हैं तो हमारी नेता ममता बनर्जी तीन बार की सीएम होकर क्यों नहीं प्रधानमंत्री बन सकती हैं?  

'सरकार में बदलाव चाहते हैं लोग'
महुआ मोइत्रा ने कहा कि अभी देश में जो स्थिति है, उसकी वजह से देश की जनता केंद्र सरकार में बदलाव चाहती है. कोरोना वायरस, आर्थिक स्थिति आदि के चलते लोग बदलाव की मांग कर रहे हैं. ममता बनर्जी इस बदलाव के लिए आगे से लड़ाई लड़ रही हैं. सवाल यह नहीं है कि ममता बनर्जी क्या प्रधानमंत्री बनेंगी? सवाल यह है कि आखिर पीएम मोदी क्यों प्रधानमंत्री बने रहेंगे? किस काम को लेकर वे प्रधानमंत्री बने रहेंगे.

जगदीप धनखड़ पर क्या बोलीं महुआ?
हाल ही में ममता बनर्जी और राज्यपाल जगदीप धनखड़ के बीच हुई मुलाकात पर महुआ मोइत्रा ने कहा कि वे अभी चुप हैं, लेकिन दो हफ्ते बाद अचानक से दिल्ली से फोन आ जाएगा और फिर वे एक्टिव हो जाएंगे और सुबह-शाम ट्वीट करते रहेंगे. मैं व्यक्तिगत तौर पर उनकी रिस्पेक्ट करती हूं. वे आज चुप हैं, लेकिन कल बोल देंगे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें