scorecardresearch
 

अमानतुल्लाह खान को वक्फ बोर्ड चेयरमैन पद से तुरंत हटाया जाए, ACB ने लिखी LG को चिट्ठी

LG दफ्तर के सूत्रों ने बुधवार को बताया कि ACB ने कहा कि खान की 'आपराधिक छवि' है, ऐसे में भ्रष्टाचार के मामले में गवाह बयान दर्ज कराने के लिए आगे आने से डर रहे हैं. ACB ने पत्र में कहा कि 'लोग अमानतुल्ला खान से डरते हैं क्योंकि उनकी अपराधिक छवि है. इसके कारण गवाहों को बयान देने में डर लग रहा है.

X
अमानतुल्लाह खान आम आदमी पार्टी से विधायक हैं. (फाइल फोटो)
अमानतुल्लाह खान आम आदमी पार्टी से विधायक हैं. (फाइल फोटो)

भ्रष्टाचार निरोधक शाखा ( Anti-Corruption Branch (ACB) ने उपराज्यपाल (Lieutenant Governor) सचिवालय को पत्र लिखकर मांग की है कि आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान को दिल्ली वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष पद से हटाया जाए. ACB ने कहा है कि अमानतुल्लाह के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले में गवाहों को धमकाने से जांच में बाधा आ रही है.

बता दें कि अमानतुल्लाह खान ओखला से AAP विधायक हैं. उन्होंने एक दिन पहले ट्वीट करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला. उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री, AAP संयोजक अरविंद केजरीवाल से डरते हैं और उन्हें परेशान करने के लिए टारगेट करते हैं.

मोदीजी हम डरने वाले नहीं हैं: अमानतुल्ला

खान ने ट्वीट किया- मोदीजी,  अरविंद केजरीवालजी से डरे हुए हैं और उन्हें परेशान करने के लिए लगातार उनके साथियों को निशाना बना रहे हैं. चाहे मनीष सिसोदिया, सत्येंद्र जैन या फिर मैं... लेकिन मोदीजी एक बात कान खोल कर सुन लें, हम डरने वाले नहीं. न्यायपालिका और संविधान पर हमें पूरा भरोसा है.

अमानतुल्लाह को जांच पूरी होने तक पद से हटाया जाए

LG दफ्तर के सूत्रों ने बुधवार को बताया कि ACB ने कहा कि खान की 'आपराधिक छवि' है, ऐसे में भ्रष्टाचार के मामले में गवाह बयान दर्ज कराने के लिए आगे आने से डर रहे हैं. ACB ने पत्र में कहा कि 'लोग अमानतुल्ला खान से डरते हैं क्योंकि उनकी अपराधिक छवि है. इसके कारण गवाहों को उनके खिलाफ स्वतंत्र रूप से और निष्पक्ष रूप से बयान देने में बाधा आ रही है. इसलिए, इस मामले में निष्पक्ष जांच तब तक नहीं की जा सकती, जब तक खान दिल्ली वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष के रूप में पद पर रहते हैं. ACB ने जांच पूरी होने तक खान को पद से हटाने की मांग की है.

LG के सचिवालय को लिखा गया पत्र

तत्कालीन विशेष पुलिस आयुक्त (ACB) एसके गौतम द्वारा हाल ही में एलजी सचिवालय को लिखे गए पत्र में कहा गया है कि मामले के गवाह खान के 'आक्रामक व्यवहार' और दिल्ली वक्फ बोर्ड में चेयरमैन होने के कारण डरते हैं.

यह है पूरा मामला

सूत्रों ने बताया कि अमानतुल्लाह खान के खिलाफ मामला वक्फ बोर्ड के बैंक खातों में 'वित्तीय गड़बड़ी', वक्फ बोर्ड की संपत्तियों में किरायेदारी का निर्माण, वाहनों की खरीद में 'भ्रष्टाचार' और दिल्ली वक्फ बोर्ड में सेवा नियमों में उल्लंघन करते हुए 33 लोगों की 'अवैध नियुक्ति' से संबंधित है. इस संबंध में ACB ने जनवरी 2020 में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम और भारतीय दंड संहिता के विभिन्न प्रावधानों के तहत केस दर्ज किया था.

खान के खिलाफ 23 केस

ACB ने हवाला दिया कि खान के खिलाफ 23 आपराधिक केस दर्ज हैं. इनमें से दो केसों का ट्रायल चल रहा है. सात मामलों की जांच पेंडिंग है. इसके अलावा, एक सीबीआई समेत अन्य मामलों की जांच विभिन्न पुलिस स्टेशनों की पुलिस कर रही है. 

बीजेपी ने कहा- अमानतुल्लाह को बर्खास्त करें केजरीवाल

सूत्रों ने बताया कि जांच अधिकारी ने एक रिपोर्ट पेश की है, उसके बाद ACB का पत्र सामने आया है, इसमें खान की ओर से गवाहों को धमकी का हवाला दिया गया है. दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को खान को वक्फ बोर्ड की अध्यक्षता से बर्खास्त कर देना चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें