scorecardresearch
 

राष्ट्रपति कार्यकाल के बाद रामनाथ कोविंद का नया पता होगा 12 जनपथ! कभी रहते थे रामविलास पासवान

राष्ट्रपति के रूप में कार्यकाल पूरा होने के बाद रामनाथ कोविंद का नया पता लुटियंस दिल्ली का 12 जनपथ बंगला हो सकता है. लुटियंस दिल्ली के सबसे बड़े बंगलों में गिने जाने वाले इसी बंगले में रामविलास पासवान रहा करते थे.

X
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (फाइल फोटोः आजतक) राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (फाइल फोटोः आजतक)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • इसी बंगले में रहते थे रामविलास पासवान
  • अश्विनी वैष्णव को आवंटित हुआ था बंगला

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो रहा है. राष्ट्रपति पद पर कार्यकाल समाप्त होने के बाद रामनाथ कोविंद के लिए नए बंगले की तलाश अब पूरी होती दिख रही है. रामनाथ कोविंद के बतौर राष्ट्रपति कार्यकाल पूरा होने के बाद उनका नया पता लुटियंस दिल्ली का 12 जनपथ बंगला हो सकता है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक सूत्रों ने ये जानकारी दी है. सूत्रों के मुताबिक लुटियंस दिल्ली के सबसे बड़े बंगलों में से एक 12 जनपथ बंगला रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव को आवंटित किया गया था. अश्विनी वैष्णव अभी पृथ्वीराज रोड स्थित बंगले में रहते हैं. सूत्रों का दावा है कि आधिकारिक तौर पर ये बंगला अभी किसी को आवंटित नहीं किया गया है.

ये भी पढ़ेंबड़ा खास होता है राष्ट्रपति चुनाव, विधायक से सांसद तक करते हैं वोटिंग, ऐसे चुने जाते हैं 'महामहिम'

ये बंगला राष्ट्रपति पद पर कार्यकाल पूरा करने के बाद रामनाथ कोविंद को आवंटित करने की तैयारी है. गौरतलब है कि इसी बंगले में लोक जनशक्ति पार्टी के रामविलास पासवान रहते थे. रामविलास पासवान के निधन के बाद इस बंगले को अप्रैल महीने में सरकार ने खाली करा लिया था. रामविलास पासवान के निधन के बाद उनके पुत्र चिराग पासवान इस बंगले का उपयोग पार्टी संगठन की बैठक और अन्य गतिविधियों के लिए किया करते थे.

संबंधित विभाग की ओर से बंगला खाली करने को लेकर नोटिस मिलने के बाद चिराग पासवान कोर्ट भी पहुंच गए थे. कोर्ट ने इस मामले में हस्तक्षेप करने से इनकार कर दिया था. बंगला खाली कराने की प्रक्रिया में कोर्ट के हस्तक्षेप करने से इनकार करने के बाद अंत में मजबूर होकर चिराग पासवान को बंगला खाली करना पड़ा था.

21 जुलाई को मिल जाएगा अगला राष्ट्रपति

राष्ट्रपति पद के लिए 18 जुलाई को चुनाव होना है. सत्ताधारी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) ने द्रौपदी मुर्मू को उम्मीदवार बनाया है तो वहीं विपक्ष ने यशवंत सिन्हा को मैदान में उतारा है. देश का अगला राष्ट्रपति कौन होगा, इसे लेकर तस्वीर 21 जुलाई के दिन वोटों की गिनती के बाद साफ हो जाएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें