scorecardresearch
 

'सरकार-इंडस्ट्री की ऐसी साझेदारी पहले कभी नहीं देखी', पीएम मोदी से बोले वैक्सीन निर्माता

आज पीएम की वैक्सीन निर्माताओं संग एक बैठक हुई थी. उस बैठक में पीएम मोदी ने तो विस्तार से अपने विचार रखे ही, लेकिन सभी का ध्यान खींचा वैक्सीन निर्माताओं के उस विश्वास ने जो केंद्र की तरफ देखने को मिला.

पीएम नरेंद्र मोदी पीएम नरेंद्र मोदी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • वैक्सीन निर्माताओं ने की पीएम की तारीफ
  • बोले- पहले कभी सरकार-इंडस्ट्री की ऐसी साझेदारी नहीं देखी

कोरोना वैक्सीन के मामले में भारत ने पूरी दुनिया के सामने अपनी काबिलियत का डंका बजा दिया है. 100 करोड़ से ज्यादा टीका लगा दिखा दिया गया है कि महामारी के खिलाफ भारत ना सिर्फ पूरी ताकत के साथ लड़ रहा है बल्कि दूसरे देशों को भी दिशा दिखा रहा है. अब इसी कड़ी में तमाम वैक्सीन निर्माताओं ने पीएम मोदी की जमकर तारीफ की है.

वैक्सीन निर्माताओं ने की पीएम की तारीफ

आज पीएम की वैक्सीन निर्माताओं संग एक बैठक हुई थी. उस बैठक में पीएम मोदी ने तो विस्तार से अपने विचार रखे ही, लेकिन सभी का ध्यान खींचा वैक्सीन निर्माताओं के उस विश्वास ने जो केंद्र की तरफ देखने को मिला. सभी वैक्सीन निर्माताओं ने एक सुर में कहा कि आज से पहले हमने सरकार और इंडस्ट्री के बीच ऐसी साझेदारी नहीं देखी है. उनकी नजरों में अगर सिर्फ पुराने कायदे-कानूनों का पालन होता तो ना सिर्फ टीकाकरण का अभियान धीमा पड़ जाता, बल्कि इस लक्ष्य तक पहुंचना भी मुश्किल रहता.

निर्माताओं ने पीएम मोदी की लीडरशिप की भी तारीफ की. उन्होंने कहा कि पीएम का लगातार सपोर्ट मिला है, वैक्सीन बनने से लेकर सप्लाई करने तक, हर मोड़ पर उनका समर्थन देखने को मिला. सीरम के अदार पूनावाला ने बताया कि भारत सरकार ने कोरोना के शुरुआत में ही कुछ नियामक सुधार किए थे, उस वजह से टीकाकरण प्रक्रिया तेजी से शुरू हो पाई. वहीं भारत बायोटेक के डायरेक्टर ने इस बात पर खुशी जताई कि पीएम ने हर प्लेटफॉर्म पर उनकी कोवैक्सीन का समर्थन किया.

पीएम मोदी ने किया शुक्रिया

वहीं पीएम नरेंद्र मोदी ने भी तमाम निर्माताओं का कई मौकों पर शुक्रिया अदा किया. उन्होंने जोर देकर कहा कि निर्माताओं की कड़ी मेहनत की वजह से 100 करोड़ का आंकड़ा छुआ जा सका. उन्होंने स्पष्ट कहा कि पिछले डेढ़ साल में देश ने कई ऐसी चीजें सीख लीं हैं जिनका पालन अब आने वाले टाइम में लगातार होना चाहिए.

वैसे अभी के लिए 100 करोड़ का लक्ष्य जरूर हासिल कर लिया गया है, लेकिन पीएम को अहसास है कि आने वाले महीनों में कई नई चुनौतियां पेश होने वाली हैं. ऐसे में उन्होंने वैक्सीन निर्माताओं को कहा है कि वे हर चुनौती के लिए तैयार रहें और पहले से भी ज्यादा मेहनत करने का प्रयास करें.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×