scorecardresearch
 

India 100 crore corona vaccines: देश में 100 करोड़ डोज का आंकड़ा पार, इन 10 राज्यों में लगे सबसे ज्यादा टीके

India 100 crore corona vaccines: कोरोना वैक्सीनेशन में भारत ने इतिहास रच दिया है. देश में 100 करोड़ डोज का आंकड़ा पार हो गया है. कोरोना टीके के मामले में टॉप 10 राज्य कौन से हैं यहां जानिए.

कोरोना वैक्सीनेशन में भारत ने इतिहास रच दिया कोरोना वैक्सीनेशन में भारत ने इतिहास रच दिया
स्टोरी हाइलाइट्स
  • देश में 100 करोड़ डोज का आंकड़ा पार
  • वैक्सीन लगाने के मामले में उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र टॉप पर हैं

कोरोना टीकाकरण के मामले में भारत ने 100 करोड़ का ऐतिहासिक मुकाम (India 100 crore corona vaccines) हासिल कर लिया है. देशभर में तेजी से कोरोना के खिलाफ जंग जारी है. 100 करोड़ कोरोना टीका लगाने में सभी राज्यों का अच्छा योगदान है लेकिन कुछ राज्यों ने कोरोना टीकाकरण के 9 महीनों में बहुत तेजी से टीकाकरण किया है.

सबसे ज्यादा टीका लगाने के मामले में उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, गुजरात और मध्य प्रदेश शामिल हैं. हालांकि, यहां ज्यादा टीके लगने के पीछे यहां की ज्यादा जनसंख्या, 18+ आबादी भी है. दिल्ली की बात करें तो यहां अबतक 1.28 करोड़ कोरोना टीके (पहली खुराक) लग चुके हैं.

वैक्सीन लगाने वाले टॉप 10 राज्य
राज्य पहली खुराक दूसरी खुराक
उत्तर प्रदेश 9.43 करोड़ 2.78 करोड़
महाराष्ट्र 6.43 करोड़ 2.88 करोड़
पश्चिम बंगाल 4.97 करोड़ 1.87 करोड़
गुजरात 4,41 करोड़ 2,35 करोड़
मध्य प्रदेश 4,94 करोड़ 1,77 करोड़
बिहार 4,80 करोड़ 1,54 करोड़
कर्नाटक 4,12 करोड़ 2,05 करोड़
राजस्थान 4,21 करोड़ 1,88 करोड़
तमिलनाडु 3,94 करोड़ 1,44 करोड़
आंध्र प्रदेश 3,10 करोड़ 1,75 करोड़

फिलहाल भारत की 18+ आबादी का 74.9 फीसदी कम से कम एक डोज ले चुका है और 18+ आबादी का 30.9 फीसदी पूरी तरह वैक्सीनेटेड हो चुका है.

देश में कोविड-19 वैक्सीनेशन का आंकड़ा 100 करोड़ के पार पहुंचने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी बधाई दी. प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीट में लिखा, 'हमारे डॉक्टरों, नर्सों और उन सभी को धन्यवाद जिन्होंने इस उपलब्धि को हासिल करने के लिए काम किया.'

किस राज्य में लगे कितने टीके

इस तरह चला कोरोना टीकाकरण अभियान

- भारत में 16 जनवरी को वैक्सीनेशन शुरू हुआ था. उस वक्त स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन वॉरियर्स को वैक्सीन दी गई. 
- इसके बाद 1 मार्च से वैक्सीन का दूसरा चरण शुरू हुआ. इसमें 60 साल से ज्यादा उम्र वाले और किसी न किसी गंभीर बीमारी से जूझ रहे 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीन दी गई. 
- 1 अप्रैल से देश में 45 साल से ऊपर के सभी लोगों को वैक्सीन दी जाने लगी. 
- भारत में 1 मई को 18 साल से ऊपर के सभी लोगों वैक्सीन देने का ऐलान किया गया. हालांकि, शुरुआती तौर पर इसे देश के सबसे संक्रमित शहरों से शुरू किया गया था.
- मौजूदा समय में देश के 63,467 सेंटर्स पर वैक्सीन लग रही हैं. इनमें 61,270 सरकारी और 2,197 प्राइवेट सेंटर्स हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें