scorecardresearch
 

Corona पर PM Modi की सभी मुख्यमंत्रियों के साथ मीटिंग, इन 5 जरूरी बातों पर दिया जोर

PM Modi Meeting with CMs: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के बीच गुरुवार शाम बैठक हुई. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई मीटिंग में पीएम ने कोरोना पर जीत के मंत्र दिए.

X
Covid को लेकर मुख्यमंत्रियों के साथ पीएम मोदी की बैठक. Covid को लेकर मुख्यमंत्रियों के साथ पीएम मोदी की बैठक.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • PM की बैठक में पंजाब के CM चन्नी भी मौजूद रहे
  • देश में कोविड केस एक दिन में 2 लाख के पार
  • 12 लाख से ज्यादा एक्टिव केस

PM Modi Meeting with CMs: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार शाम सभी मुख्यमंत्रियों और उपराज्यपालों समेत केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासकों के साथ एक बड़ी उच्च स्तरीय बैठक की. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई इस मीटिंग में COVID-19 से निपटने की तैयारियों और वैक्सीनेशन प्रोग्राम की समीक्षा की गई.  

इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि पिछले वैरिएंट की तुलना में ओमिक्रॉन तेजी से फैल रहा है. यह अधिक ट्रांसमिसिबल है. हमारे स्वास्थ्य विशेषज्ञ स्थिति का आकलन कर रहे हैं. यह स्पष्ट है कि हमें सतर्क रहना है, लेकिन घबराहट से बचना भी सुनिश्चित करना है. प्रधानमंत्री के संबोधन की 5 बड़ी बातें... 

 - कड़ी मेहनत ही हमारा एकमात्र रास्ता है और जीत ही हमारा एकमात्र विकल्प है.

- केंद्र द्वारा राज्यों को आवंटित 23,000 करोड़ रुपये के पैकेज का अच्छी तरह से उपयोग किया गया है, कई राज्यों ने अपने स्वास्थ्य ढांचे को मजबूत किया है. जिस तरह से केंद्र और राज्य सरकारों ने प्री- इम्‍पटिव, प्रो-एक्टिव और कलेक्टिव अप्रोच दृष्टिकोण अपनाया था, वही इस बार भी जीत का मंत्र है.

- भारत में लगभग 92 प्रतिशत वयस्क आबादी को पहली खुराक दी जा चुकी है. दूसरी डोज का कवरेज भी लगभग 70 प्रतिशत तक पहुंच गया है."

- अर्थव्यवस्था की गति को बनाए रखा जाना चाहिए, इसलिए बेहतर होगा कि लोकल कंटेनमेंट पर ज्यादा ध्यान दिया जाए.

- नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के बावजूद, महामारी से निपटने के लिए टीकाकरण सबसे शक्तिशाली तरीका है. कोरोना को हराने के लिए हमें अपनी तैयारी हर प्रकार से आगे रखने की जरूरत है. ओमिक्रॉन से निपटने के साथ-साथ हमें भविष्य के किसी भी वैरिएंट के लिए अभी से तैयारी शुरू करने की जरूरत है.

 
PM मोदी के सामने सीएम चन्नी का शेर- 'तुम सलामत रहो कयामत तक और खुदा करे कि कयामत न हो...' 

 

वर्चुअल मीटिंग में गृहमंत्री अमित शाह, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया समेत कांग्रेस शासित राज्य पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत और छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल भी बैठक में मौजूद रहे. 

बता दें कि ओमिक्रॉन के प्रसार को रोकने के लिए देश के विभिन्न हिस्सों में नए सिरे से प्रतिबंध लगाए गए हैं. रविवार को भी एक उच्च स्तरीय बैठक में कोविड स्थिति की समीक्षा करते हुए, पीएम मोदी ने जिला स्तर पर पर्याप्त स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे को सुनिश्चित करने और मिशन मोड में किशोरों के लिए टीकाकरण अभियान को तेज करने का आह्वान किया था. गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2020 में इस महामारी के फैलने के बाद से मुख्यमंत्रियों के साथ कई बैठकें की हैं. 

आपको बता दें कि देश में कोरोना वायरस के मामले 2 लाख के पार हो चुके हैं. साथ ही 300 जिलों में संक्रमण दर 5 फीसदी से ज्यादा हो चुकी है. इस दौरान भारत में 12 लाख से ज्यादा एक्टिव केस हैं.   

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें