scorecardresearch
 

बंगाल में नतीजों के बाद हिंसा, अब तक 4 लोगों की गई जान, नंदीग्राम में BJP दफ्तर पर भी हमला

चुनाव नतीजों के बाद से ही बंगाल के अलग-अलग इलाकों में हिंसा जारी है. सोमवार को नंदीग्राम में भी बवाल हुआ, यहां भारतीय जनता पार्टी के दफ्तर में तोड़फोड़ की कोशिश की गई.

नंदीग्राम में बीजेपी दफ्तर में तोड़फोड़-आगजनी की कोशिश नंदीग्राम में बीजेपी दफ्तर में तोड़फोड़-आगजनी की कोशिश
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बंगाल में चुनावी नतीजों के बाद कई जगह हिंसा
  • नंदीग्राम में बीजेपी के दफ्तर में तोड़फोड़ की कोशिश
  • नतीजों के बाद हिंसा में अबतक 4 की मौत

पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव के नतीजे आ गए हैं, तृणमूल कांग्रेस की धमाकेदार जीत हुई है. लेकिन चुनाव नतीजों के बाद से ही राज्य के अलग-अलग इलाकों में हिंसा जारी है. सोमवार को नंदीग्राम में भी बवाल हुआ, यहां भारतीय जनता पार्टी के दफ्तर में तोड़फोड़ की कोशिश की गई. इसके अलावा दफ्तर को आग के हवाले करने की कोशिश की गई.

भारतीय जनता पार्टी ने आरोप लगाया है कि ये सब तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने किया है. सिर्फ भाजपा के दफ्तर ही नहीं, बल्कि यहां पर कई दुकानों और घरों में तोड़फोड़-आगजनी की गई है. बीजेपी का आरोप है कि तोड़फोड़ के बाद जब पुलिस मौके पर पहुंची तो हंगामा करने वाले भाग गए. इस घटना के बाद नंदीग्राम बाजार इलाके में तनाव बढ़ गया है.

आपको बता दें कि बंगाल में भले ही तृणमूल कांग्रेस की जीत हुई हो, लेकिन नंदीग्राम में खुद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी चुनाव हार गई हैं. ममता बनर्जी को भारतीय जनता पार्टी के शुभेंदु अधिकारी ने चुनाव हराया है. 

नतीजों के बाद शुरू हुई हिंसा में चार की मौत
पश्चिम बंगाल में चुनाव के नतीजे आने के बाद से ही हिंसा हो रही है. रविवार से लेकर अबतक बंगाल में हिंसा के बाद चार लोगों की मौत हो गई है. इसमें दक्षिण 23 परगना, नदिया में बीजेपी के कार्यकर्ता, वर्धमान में टीएमसी और उत्तर 24 परगना में ISF के कार्यकर्ता की जान चली गई है. 

बीती रात को कोलकाता के उल्टाडांगा इलाके में एक बीजेपी कार्यकर्ता को पीटकर मारे जाने का आरोप है. इसके अलावा दक्षिण 24 परगना के सोनारपुर में भी एक बीजेपी कार्यकर्ता की मौत हो गई है, आरोप है कि तृणमूल कार्यकर्ताओं की पिटाई से बीजेपी कार्यकर्ता की मौत हुई है. इन सबके बीच पश्चिम बंगाल बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष आज 4:00 बजे राज्यपाल को चुनाव बाद हिंसा के बारे में ज्ञापन सौंपेंगे.

बीजेपी का आरोप है कि कूचबिहार के सीतलकुची में उसके एक कार्यकर्ता की मौत हो गई है. यहां पर बीजेपी और टीएमसी के कार्यकर्ताओं में झड़प हुई थी. आरोप है कि गोली लगने से बीजेपी कार्यकर्ता की मौत हुई है. 


बंगाल में नतीजों के बाद शुरू हुआ बवाल
आपको बता दें कि बीते दिन चुनाव नतीजे आने के बाद से ही बंगाल के अलग-अलग इलाकों में हिंसा की खबरें आ रही थीं. रविवार को ही बंगाल के दुर्गापुर में भाजपा के एक दफ्तर में आग लगा दी गई. दुर्गापुर में रात को बीजेपी का दफ्तर जला दिया गया. दुर्गापुर पश्चिम से बीजेपी के विजयी प्रत्याशी लखन का आरोप है कि टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने पूरी रात बाइक पर घूमकर यहां बवाल काटा और बीजेपी के कार्यकर्ताओं को नुकसान पहुंचाया.

रविवार को ही हुगली के आरामबाग में राजनीतिक हिंसा देखने को मिली. यहां पर तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों ने भाजपा के कार्यकर्ताओं के घर, दुकानों पर हमला बोल दिया. इस दौरान कई जगह लूटपाट हुई और तोड़फोड़ की गई. बीजेपी का आरोप है कि उनके कार्यकर्ताओं की दो मोबाइल की दुकान, एक कपड़े की दुकान को तहस-नहस कर दिया गया. 

गौरतलब है कि बीते दिन ही बंगाल के चुनावी नतीजे घोषित किए गए हैं, जिसमें टीएमसी की बंपर जीत हुई है और ममता बनर्जी लगातार तीसरी बार सीएम बन रही हैं. टीएमसी को बंगाल में 213, बीजेपी को 77 सीटें मिली हैं. जबकि एक सीट निर्दलीय, एक सीट RSMP के नाम गई है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें