scorecardresearch
 

Noida Hawala Case: दिल्ली में धींगरा प्रॉपर्टीज पर IT और SOG ने मारी रेड, मिला एक करोड़ कैश

नोएडा हवाला कैश मामले में आईटी और नोएडा एसओजी ने दिल्ली में रेड मारी. ढींगरा प्रॉपर्टीज प्राइवेट पर मारी गई रेड में एक करोड़ रुपए कैश बरामद किए गए हैं. पूछताछ में कंपनी के लोग कैश के बारे में जानकारी नहीं दे पाए. हवाला मामले में अभी तक चार करोड़ रुपए के करीब कैश बरामद किया जा चुका है.

X
नोएडा के बाद दिल्ली में बरामद किया गया एक करोड़ रुपए कैश.
नोएडा के बाद दिल्ली में बरामद किया गया एक करोड़ रुपए कैश.

नोएडा (Noida) में हवाला केस मामले में इनकम टैक्स विभाग (Income Tax Department) और नोएडा पुलिस अलग-अलग जगहों पर छापेमारी कर रोज नए खुलासे कर रही है. अब तक आयकर विभाग 4 करोड़ रुपए के करीब कैश बरामद कर चुकी है.

इस मामले में सोमवार को आयकर विभाग की टीम ने दिल्ली के ग्रेटर कैलाश स्थित ढींगरा प्रॉपर्टीज प्राइवेट लिमिटेड पर छापेमारी की. इस दौरान टीम ने एक करोड़ रुपए कैश बरामद किया. कैश के अलावा कई वित्तीय लेनदेन के कागजात बरामद किए हैं.

पिछले एक हफ्ते में चौथी बड़ी सफलता 

आयकर विभाग से मिली जानकारी के अनुसार ढींगरा प्रॉपर्टीज प्राइवेट लिमिटेड ग्रेटर कैलाश 2 दिल्ली में है. कंपनी में एक करोड़ रुपए कैश आया था. नोएडा के ब्रोकर के माध्यम से जब आयकर विभाग को जानकारी मिली, तो आईटी और नोएडा पुलिस की एसओजी टीम ब्रोकर बनकर कंपनी पहुंची. 

यहां पहुंचने के बाद टीम ने छापेमारी कर एक करोड़ रुपए कैश बरामद किया. नोएडा इनकम टैक्स इन्वेस्टिगेशन टीम की पिछले एक हफ्ते में यह चौथी बड़ी सफलता है. 

कैश बरामदगी के बाद आईटी और एसओजी की टीम बरामद किए गए कंपनी के दस्तावेजों की भी जांच कर रही है. टीम की पूछताछ में कंपनी के डायरेक्टर और कर्मचारी एक करोड़ रुपए कहां से आए, इसका जबाव नहीं दे पाए. 

यह है पूरा मामला

दसअसल, नोएडा पुलिस ने 10 नवंबर को सेक्टर 55 से 8 लोगों को हवाला के लगभग 2 करोड़ रुपए कैश के साथ गिरफ्तार किया था. इसके बाद पुलिस ने आयकर विभाग की नोएडा यूनिट को सूचना दी थी. 

हवाला कारोबार से जुड़े इन आरोपियों के पास से 4 बैग मिले थे, जिनमें लगभग 2 करोड़ रुपए नगद थे. बरामद कैश में 2 हजार और 500 रुपए के भी नोट मिले थे. गिरफ्तार किए गए आरोपी मध्य प्रदेश, गुजरात, बंगाल के रहने वाले बताए गए थे. इनमें दो आरोपी स्थानीय थे.

इनकी गाड़ियों पर मीडिया का स्टीकर लगा था. पुलिस ने बताया था कि आरोपियों के साथ राजा मौर्य नाम का व्यक्ति था. वह मौके से फरार हो गया था, जिसकी तलाश में पुलिस दबिश जारी है. बताया जा रहा है कि पूरे मामले के तार गुजरात, मुंबई और कर्नाटक से जुड़ रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें