scorecardresearch
 

IMD Rainfall Alert: बंगाल की खाड़ी में बनेगा कम दबाव को क्षेत्र, ओडिशा के इन जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

Weather Update: मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक, उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी में 7 अगस्त को एक कम दबाव के क्षेत्र बनने जा रहा है, जिसके कारण राज्य के कई जिलों में 5 अगस्त से आगामी 10 अगस्त तक गरज और वज्रपात के साथ हल्की तो कहीं अत्याधिक भारी बारिश होने की आशंका है.

X
Weather Update Today Weather Update Today

Weather Forecast: मॉनसून के दौरान पूर्वी भारत के समुद्र तट पर बसे ओडिशा राज्य को मौसम की मार झेलनी पड़ती है. उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बनने से ओडिशा को लगातार भारी बारिश का सामना करना पड़ता है. वहीं, मॉनसून के दौरान समुद्र में एक महीने में तीन-चार बार कम दबाव का क्षेत्र बनता है. जिसके कारण ओडिशा राज्य के अधिकांश जिलों में भारी बारिश दर्ज की जाती है. 

भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी में 7 अगस्त को एक कम दबाव के क्षेत्र बनने जा रहा है. जिसके कारण राज्य के कई जिलों में 5 अगस्त से आगामी 10 अगस्त तक गरज और वज्रपात के साथ हल्की तो कहीं अत्याधिक भारी बारिश होने की आशंका है. प्रदेश के कई जिलों में 7 और 8 अगस्त को अत्याधिक भारी बारिश होने की वजह से ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. इस दौरान बंगाल की खाड़ी में 45-55 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवा चलने की संभावना है.

'आजतक' से बातचीत में भारतीय मौसम विभाग के भुवनेश्वर के वरिष्ठ वैज्ञानिक उमाशंकर दास ने कहा कि उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी में 7 अगस्त को एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है, जिसके प्रभाव में 5 अगस्त से आगामी 10 अगस्त तक प्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश होने की आशंका है. मौसम विभाग ने भारी बारिश के मद्देनजर प्रदेश के कई जिलों में येलो और ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.

दास ने कहा कि मौसम विभाग ने 5 और 6 अगस्त को राज्य के कई जिलों के लिए येलो अलर्ट जारी किया है. विभाग ने 5 अगस्त को मलकानगिरी, कोरापुट, नवरंगपुर, रायगढ़, कालाहांडी, गजपति एवं गंजाम जिलों के लिए भारी बारिश की आंशका जताई है.

हालांकि, 6 अगस्त को वज्रपात के साथ भारी बारिश होने का अनुमान है, जिसमें मलकानगिरी, कोरापुट, नवरंगपुर, रायगढ़, कालाहांडी, गंजाम, खोर्दा, कंधमाल, पुरी, बोद्ध, अंगुल, नयागढ़, जगतसिंहपुर, केंद्रापाड़ा और भद्रक जिलों का नाम शामिल है. इस दौरान सभी जिलों में 7-11 सेंटिमीटर बारिश रिकॉर्ड किया जा सकता है.

दास ने विस्तार से कहा कि 7 और 8 अगस्त को प्रदेश के कई जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. दास ने कहा 7 अगस्त को मलकानगिरी, कोरापुट, नवरंगपुर, रायगढ़ और गजपति जिलों में वज्रपात के साथ अत्याधिक भारी बारिश होने की संभावना है. वहीं, 8 अगस्त को पुरी, जगपति, गंजाम, जगतसिंहपुर, खुर्दा, मलकानगिरी और कोरापुट में अत्याधिक भारी बारिश होने की आशंका है. इन सभी उपयुक्त जिलों में 7-20 सेंटिमीटर तक बारिश रिकॉर्ड होने की आशंका है. इस दौरान बंगाल की खाड़ी में 45-55 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवा चलने की संभावना है.

दास ने कहा कि मौसम विभाग ने 9 अगस्त को नयागढ़, कटक, केंद्रापाड़ा, जजपुर, भद्रक, बालेश्वर, ढेंनकाला, कंधमाल, बौद्ध, रायगढ़, कलाहांड़ी, नवरंगपुर, सोनपुर, बरगढ़ और अंगुल जिलों को लिए येलो अलर्ट जारी किया है. इन सभी जिलों में 7-11 सेंटिमीटर तक भारी बारिश होने की संभावना है.

दास ने कहा कि इस साल मॉनसून के दौरान 1 जून से 4 अगस्त तक औसतन बारिश से 12 प्रतिशत कम बारिश दर्ज की गई है. प्रदेश में शुरुआती मॉनसून से 4 अगस्त तक 527 मीलिमीटर बारिश दर्ज की गई है, जोकि औसतन बारिश 607 मीलिमीटर से थोड़ा कम है. दास ने कहा कि उम्मीद है कि आगामी दिनों की भारी बारिश औसतन बारिश की कमी को पूरी कर सकती है.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें