scorecardresearch
 

द्रौपदी मुर्मू को केंद्र ने Z+ सुरक्षा दी, एनडीए की राष्ट्रपति पद की हैं उम्मीदवार

बीजेपी ने मंगलवार को राष्ट्रपति चुनाव के लिए एनडीए के उम्मीदवार का ऐलान कर दिया. एनडीए की ओर से 64 साल की आदिवासी नेता द्रौपदी मुर्मू राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार होंगी. वह झारखंड की पहली महिला राज्यपाल भी रह चुकी हैं.

X
द्रौपदी मुर्मू (फाइल फोटो) द्रौपदी मुर्मू (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • झारखंड की राज्यपाल रह चुकीं द्रौपदी मुर्मू
  • द्रौपदी मुर्मू ओडिशा की रहने वालीं, वे आदिवासी नेता हैं

एनडीए की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को Z+ की सुरक्षा दी गई है. केंद्र सरकार ने उन्हें सीआरपीएफ कर्मियों द्वारा जेड प्लस सिक्योरिटी कवर दिया है. बताया जा रहा है कि गृह मंत्रालय ने  IB की थ्रेट परसेप्शन रिपोर्ट के आधार पर मुर्मू को सुरक्षा दी है. 

बीजेपी ने मंगलवार को ही द्रौपदी मुर्मू को एनडीए का राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाया है. उधर, यशवंत सिन्हा विपक्ष की ओर से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार है. 

द्रौपदी मुर्मू झारखंड की पहली महिला राज्यपाल भी रह चुकी हैं. द्रौपदी मुर्मू का जन्म ओडिशा आदिवासी जिले मयूरभंज के रायरंगपुर गांव में हुआ. वे 18 मई 2015 से 12 जुलाई 2021 तक झारखंड के राज्यपाल पद पर रहीं. द्रौपदी मुर्मू ओडिशा की पहली महिला और आदिवासी नेता हैं, जिन्हें राज्यपाल नियुक्त किया गया.

मुर्मू 2013 में बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में एसटी मोर्चे की सदस्य रहीं. 10 अप्रैल 2015 तक उन्होंने यह पद संभाला था. वह 2013 में ओडिशा के मयूरभंज की जिला अध्यक्ष निर्वाचित हुईं थी. वह 2010 में भी जिला अध्यक्ष निर्वाचित हुई थीं.

कैसी होगी सुरक्षा? 

सुरक्षा की ब्लू बुक के मुताबिक, जिस वीवीआईपी को जेड प्लस कैटेगरी की सुरक्षा दी जाती है, उनके चारो तरफ कड़ा सुरक्षा का पहरा होता है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक 58 कमांडो Z+ कैटेगरी की सुरक्षा में तैनात होते हैं. 10 आर्म्ड स्टैटिक गॉर्ड, 6 PSO एक समय मे राउंड द क्लॉक, 24 जवान, 2 एस्कॉर्ट में राउंड द क्लॉक, 5 वाचर्स दो शिफ्ट में रहते हैं. एक इंस्पेक्टर या सब इंस्पेक्टर इंचार्ज के तौर पर तैनात रहता है. वीआईपी के घर मे आने जाने वाले लोगो की स्क्रीनिंग करने वाले जवान तैनात रहते हैं और इसके साथ ही राउंड द क्लॉक ट्रेंड 6 ड्राइवर होते हैं. 

उम्मीदवार बनाए जाने पर क्या बोलीं मुर्मू

एनडीए की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू ने कहा, "मैं आश्चर्यचकित हूं और मुझे विश्वास नहीं हो रहा. मैं आप सभी की आभारी हूं और ज्यादा बोलने की इच्छा नहीं है. संविधान में राष्ट्रपति की जो भी शक्तियां हैं मैं उसके अनुसार काम करूंगी.'' द्रौपदी मुर्मू ने कहा, हमारा काम लोगों के पास जाना है. हमें निर्वाचित सदस्यों तक पहुंचना और उनका सहयोग लेना है. मैं सभी दलों और राज्यों से समर्थन के लिए अपील करूंगी. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें