scorecardresearch
 

Drone Mahotsav: 'ऑफिस में बैठे-बैठे लेता हूं केदारनाथ की खबर', पीएम मोदी ने गिनाए ड्रोन के फायदे

PM Modi in Drone Mahotsav: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ड्रोन महोत्सव का उद्घाटन किया. यहां मोदी ने ड्रोन के फायदे गिनाये. वह बोले कि ड्रोन की मदद से उनको ऑफिस में ही केदारनाथ की रिपोर्ट मिल जाती है.

X
पीएम मोदी (फाइल फोटो) पीएम मोदी (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ड्रोन महोत्सव दिल्ली के प्रगति मैदान में हो रहा है
  • ड्रोन महोत्सव 2022 दो दिन तक चलेगा

Bharat Drone Mahotsav 2022: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज ड्रोन के फायदे गिनाते हुए कहा कि भारत 2030 तक ड्रोन हब बनकर दिखाएगा. पीएम मोदी ने यह बात 'भारत ड्रोन महोत्सव' में कही. उन्होंने बताया कि किसानों तक ड्रोन की पहुंच हो चुकी है और इसका इस्तेमाल आने वाले दिनों में और बढ़ेगा.

बता दें कि 'भारत ड्रोन महोत्सव 2022' दिल्ली के प्रगति मैदान में हो रहा है. यह दो दिन चलेगा. पीएम मोदी ने तकनीक का जिक्र करते हुए कहा कि अपने ऑफिस में बैठे-बैठे वह केदारनाथ की रिपोर्ट ले लेते हैं. ऐसा ड्रोन की मदद से ही मुमकिन हो पाता है.

कार्यक्रम में ड्रोन प्रदर्शनी की तारीफ करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि मैं जिन-जिन स्टॉल पर गया, वहां सभी लोग बहुत गर्व से कहते थे कि ये Make in India हैं. पीएम ने आगे कहा कि ड्रोन के प्रति भारत में जो ऊर्जा है वह रोजगार पैदा करने के एक उभरते हुए बड़े सेक्टर की संभावनाएं दिखाती है.

यह भी पढ़ें - तेलंगाना : पीएम मोदी ने परिवारवाद को लेकर साधा निशाना तो KCR ने 'भाषणबाजी' से किया पलटवार

मोदी ने कहा कि भारत में मान लिया गया था कि तकनीक सिर्फ अमीर लोगों का कारोबार है, सामान्य लोगों की जिंदगी में इसका कोई स्थान नहीं है. इस पूरी मानसिकता को बदलकर उनकी सरकार ने तकनीक को सर्वजन के लिए सुलभ करने के लिए अनेक कदम उठाए हैं और आगे भी उठाने वाले हैं.

मोदी ने कहा कि ड्रोन तकनीक हमारे कृषि सेक्टर को अब दूसरे स्तर पर ले जाने वाली है. स्मार्ट तकनीक आधारित ड्रोन इसमें बहुत काम आ सकते हैं.

पिछली सरकारों पर निशाना भी साधा

पीएम ने कहा कि पहले की सरकारों के समय तकनीक को समस्या का हिस्सा समझा गया, उसको anti-poor साबित करने की कोशिशें हुईं. इस कारण 2014 से पहले गवर्नेंस में तकनकी के उपयोग को लेकर उदासीनता का वातावरण रहा जिसका नुकसान देश के गरीब और मिडिल क्लास को हुआ. 

मोदी ने कहा कि पहले के समय में लोगों को घंटों तक अनाज, कैरोसीन, चीनी के लिए लाइन लगानी होती थी. लोगों को डर रहता था कि उनके हिस्से का सामान उन्हें मिल भी पाएगा या नहीं. आज तकनीक की मदद से हमने इस डर को समाप्त कर दिया है. अब लोगों को भरोसा है कि उनके हिस्से का उन्हें मिलेगा ही मिलेगा.

पीएम ने कहा कि 'भारत ड्रोन महोत्सव' सिर्फ एक तकनीक का नहीं है, बल्कि नए भारत की नई गर्वनेंस का, नए प्रयोगों के प्रति अभूतपूर्व सकारात्मकता का भी उत्सव है.

 

TOPICS:
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें