scorecardresearch
 

Explainer: हरिद्वार, रायपुर के बाद अब दिल्ली की हिंदू महापंचायत को लेकर मचा बवाल, फिर विवाद में यति नरसिंहानंद

नॉर्थ वेस्ट जिले में सेव इंडिया फाउंडेशन के प्रमुख प्रीत सिंह की ओर से हिंदू महापंचायत के आयोजन की अनुमति मांगी गई थी. प्रीत सिंह दिल्ली के मंगोलपुरी का रहने वाला है. अनुमति न मिलने के बाद भी ये आयोजन किया गया.

X
यति नरसिंहानंद पर केस दर्ज कर लिया गया है यति नरसिंहानंद पर केस दर्ज कर लिया गया है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिल्ली में धर्म संसद का आयोजन
  • रायपुर में भी हुआ था धर्म संसद का आयोजन

यति नरसिंहानंद पर हेट स्पीच के मामले में केस दर्ज किया गया है. आरोप है कि हिंदू महासभा एक कार्यक्रम में संबोधित करते हुए नरसिम्हानंद ने कहा था कि अगर देश में मुस्लिम प्रधानमंत्री बनता है, तो अगले 20 साल में 50% हिंदुओं का धर्मपरिवर्तन हो जाएगा. यह पहला मौका नहीं है कि जब नरसिंहानंद इस तरह के मामले में चर्चा में आए हों, इससे पहले हरिद्वार में पिछले साल दिसंबर में हुई धर्मसंसद में भी उनके बयान को लेकर मामला दर्ज किया गया था. पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार भी किया था. अभी वे इस मामले में जमानत पर हैं.

दिल्ली में धर्म संसद का आयोजन

पुलिस का कहना है कि इस महापंचायत सभा की अनुमति नहीं दी गई थी. लेकिन आयोजकों ने इसका आयोजन किया और करीब 700-800 लोग इसमें शामिल हुए. इस मामले में तीन एफआईआर दर्ज की गई हैं. एक केस हेट स्पीच और दो केस पत्रकारों पर हमले से जुड़े हैं. इसके अलावा विभिन्न प्लेटफॉर्म के माध्यम से अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई की जा रही है. पुलिस के मुताबिक, सभी मामलों में जांच चल रही है, अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है. 

दिल्ली पुलिस ने बताया कि नॉर्थ वेस्ट जिले में सेव इंडिया फाउंडेशन के प्रमुख प्रीत सिंह की ओर से आयोजन की अनुमति मांगी गई थी. प्रीत सिंह दिल्ली के मंगोलपुरी का रहने वाला है. लेकिन पुलिस ने अनुमति देने से इनकार कर दिया. इसके बावजूद हिंदू महापंचायत सभा का आयोजन किया गया और इसमें 700-800 लोग शामिल हुए. 
 
क्या कहा नरसिंहानंद ने?

नरसिंहानंद अभी हरिद्वार में हेट स्पीच मामले में जमानत पर हैं. सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में नरसिंहानंद ने कहा कि 2029 में या 2034 या 2039 में एक मुस्लिम देश का पीएम बनेगा. अगर कोई मुस्लिम एक बार पीएम बन गया, तो 20 सालों में 50% हिंदू धर्म बदल लेंगे. सिर्फ 10% हिंदू बचेंगे, जो दूसरे देश में शरणार्थी कैंपों में रहेंगे. यह हिंदुओं का भविष्य है. अगर आपको भविष्य की इस स्थिति से बचना है तो इंसान बनो और हथियार उठा लो. 

हालांकि, हम सामने आए यति के बयान के वीडियो की पुष्टि का दावा नहीं करते. 

हरिद्वार-रायुपुर में भी हुआ था धर्म संसद का आयोजन

इससे पहले नरसिंहानंद का नाम हरिद्वार में धर्म संसद में मुस्लिमों के खिलाफ आपत्तिजनक बयान को लेकर चर्चा में आया था. हरिद्वार में 17 दिसंबर से 19  दिसंबर तक इसका आयोजन किया गया था. आरोप है कि इस धर्म संसद में मौजूद वक्ताओं ने अल्पसंख्यकों को लेकर विवादित भाषण दिए थे. इस मामले में हरिद्वार पुलिस ने वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र नारायण त्यागी, दो संत महामंडलेश्वर धर्मदास और महामंडलेश्वर अन्नपूर्णा और अन्य पर मामला दर्ज किया था. पुलिस ने नरसिंहानंद को भी गिरफ्तार किया था. 

वहीं, हरिद्वार धर्मसंसद पर बवाल थमा नहीं था, कि छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में भी धर्म संसद का आयोजन किया गया. इसमें मंच से महात्मा गांधी के खिलाफ आपत्तिजनक बयान और भड़काऊ भाषण दिए गए. इस मामले में पुलिस ने कालीचरण महाराज को गिरफ्तार किया था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें