scorecardresearch
 
न्यूज़

IRCTC: 62 हजार किराया, नेपाल तक का सफर! देखें कितनी शानदार है भारत गौरव ट्रेन

Bharat Gaurav Train
  • 1/10

Ramayana Yatra Tour: आईआरसीटीसी द्वारा संचालित विदेश की धरती तक जाने वाली देश की पहली भारत गौरव ट्रेन (Bharat Gaurav Train) का संचालन आज, 21 जून से हो रहा है. यह ट्रेन देश की पहली भारत गौरव ट्रेन है जो रामायण सर्किट यात्रा पर दिल्ली के सफदरजंग से रवाना होकर भगवान श्री राम से जुड़े स्थानों का भ्रमण कराते हुए नेपाल के जनकपुर तक जाएगी.

Bharat Gaurav Train Route
  • 2/10

भारत गौरव ट्रेन 18 दिनों के टूर पैकेज के दौरान पर्यटक भगवान श्रीराम से जुड़े हुए देश के अलग-अलग हिस्सों में स्थित धार्मिक स्थलों का भ्रमण और दर्शन करेंगे. यह भारत गौरव ट्रेन एक कारपोरेट बिजनेस सहयोगी के साथ मिलकर चलाई जा रही है. जो पूरी यात्रा के दौरान पर्यटकों के लिए ऑन बोर्ड और ऑफ बोर्ड सेवाओं का इंतजाम करेगा.

Bharat Gaurav Train Coaches
  • 3/10

आईआरसीटीसी की इस भारत गौरव ट्रेन में कुल 14 कोच हैं. ट्रेन के इन डिब्बों को लखनऊ के आलमबाग वर्कशॉप में तैयार किया गया है. इस दौरान ट्रेन में आधुनिक सुविधाएं बहाल की जा रही हैं. 
 

Bharat Gaurav Train Pantry Car
  • 4/10

डिब्बों के अंदर की साज सज्जा का विशेष ख्याल रखा गया है. साथ ही साथ आधुनिक उपकरणों से सुसज्जित पैंट्री कार, सीसीटीवी कैमरे, अनाउंसमेंट सिस्टम आदि लगाए जा रहे हैं.ताकि यात्रा के दौरान पर्यटकों को आरामदायक सफर का अनुभव प्राप्त हो सके.
 

Bharat Gaurav Train Painting
  • 5/10

भारत गौरव ट्रेन के डिब्बों की बाहरी दीवारों पर भी विशेष तौर से पेंटिंग की गई है. जिसमें देश के विभिन्न सांस्कृतिक पहलुओं को भी दर्शाया गया है.जिसमें भारत के प्राचीन स्मारक व्यंजन अलग-अलग राज्यों के परिधान त्यौहार योग और लोक कलाओं का वर्णन किया गया है. 
 

Bharat Gaurav Train
  • 6/10

ट्रेन के बाहर सारनाथ स्तूप, सांची स्तूप, महाबोधि मंदिर,मध्यकालीन जयपुर का हवा महल, कुंभलगढ़ का विशाल किला,हम्पी का विशाल रथ और ब्रिटिश कालीन इंडिया गेट के चित्र बने हुए हैं.
 

Ramayan Circuit
  • 7/10

यही नहीं मुगलकालीन स्मारक जैसे ताजमहल,हिमायू का मकबरा,समकालीन ग्वालियर का किला और ओरछा के मंदिर की तस्वीरों के साथ-साथ लोटस टेंपल,स्टैचू ऑफ यूनिटी, दिल्ली वार मेमोरियल की तस्वीरें भी ट्रेन पर लगाई गई हैं.
 

Ramayan Circuit Poster
  • 8/10

इसके अलावा ट्रेन के दो डिब्बों पर योग और आयुर्वेद से संबंधित तस्वीरें भी लगाई गई हैं.साथ ही साथ भारत के अलग-अलग राज्यों के परिधानों को भी इस ट्रेन के टीम में शामिल किया गया है. पैंट्री कार पर देश के अलग-अलग क्षेत्रीय व्यंजनों को दिखाया गया है.
 

Ramayan Circuit Route
  • 9/10

21 जून से शुरू होने वाली भारत गौरव ट्रेन की यात्रा रामायण सर्किट पर आधारित है और यह ट्रेन पर्यटकों को लेकर भगवान श्रीराम से जुड़े हुए अयोध्या, बक्सर, सीतामढ़ी, काशी, प्रयाग, श्रृंगेश्वर, चित्रकूट नासिक,हंपी, रामेश्वरम,कांचीपुरम और भद्राचलम सहित तमाम स्थलों तक जाएगी. यही नहीं यह ट्रेन नेपाल के जनकपुर की जाएगी. ट्रेन की टिकट 62370/- रुपए निर्धारित की गई है.

Ramayan Circuit Staff
  • 10/10

हर कोच में सुविधा और सुरक्षा के लिए 2 वेटर, एक हाउसकीपिंग स्टाफ और एक गार्ड मिलेगा. सभी कर्मचारियों मैरून रंग की कढ़ाई वाले सूट, पगड़ी, ऑफ व्हाइट कुर्ता और पायजामा में नजर आएंगे.