scorecardresearch
 

सरकारी नौकरियों में नियुक्ति लेकिन मारे-मारे फिर रहे युवा! देखें एमपी का हाल

सरकारी नौकरियों में नियुक्ति लेकिन मारे-मारे फिर रहे युवा! देखें एमपी का हाल

भारत में 1985 से 12 जनवरी को हर साल राष्ट्रीय युवा दिवस मनाया जाता है. 36 साल बाद भी भारत का युवा जब रोजगार पाने के लिए भटकता दिखे, तब युवा दिवस के ही दिन देश के बेटे-बेटियों के लिए दस्तक देनी जरूरी है. ये वो नौजवान हैं जो करीब साढ़ छह लाख लोगों के बीच इम्तिहान देकर टीचर की नौकरी पाने के लिए चयनित हुए. सरकारी नौकरी में सेलेक्ट होने पर जरूर इनके घऱवालों ने आस पड़ोस, नाते-रिश्तेदारों को बताया होगा. हमारा बेटा, हमारी बेटी को देखिए सरकारी नौकरी मिल गई. लेकिन आज यही युवा दो साल से नियुक्ति पाने को भटक रहे हैं. सोचिए ये कैसे समाज का सामना करते होंगे.

Since 1985 India observe January 12 as National Youth Day. But, even after 36 years, unemployment remains one of the most important issues for the youth. In this video, watch why these young people, even after got selected for government jobs, are unemployed. Watch the video.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें