scorecardresearch
 

अब मध्य प्रदेश की मंत्री बोलीं- फटे कपड़े पहनना होता है अपशकुन

मध्य प्रदेश की पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने सोमवार को आजतक से बात करते हुए कहा कि पुराने समय से ही फटे कपड़े पहनने को अपशकुन माना जाता है और संस्कृति निष्ठ परिवार ऐसे कपड़े पसंद नहीं करते हैं. 

X
मध्य प्रदेश की पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर मध्य प्रदेश की पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मध्य प्रदेश की पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री का बयान
  • 'फटे कपड़े को अपशकुन माना जाता है'
  • 'भारतीय संस्कृति में फटे कपड़े अपशकुन होते हैं'

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के बाद अब फटी जीन्स/कपड़ों पर मध्य प्रदेश की कैबिनेट मंत्री उषा ठाकुर का बयान सामने आया है. मध्य प्रदेश की पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने सोमवार को आजतक से बात करते हुए कहा कि पुराने समय से ही फटे कपड़े पहनने को अपशकुन माना जाता है और संस्कृति निष्ठ परिवार ऐसे कपड़े पसंद नहीं करते हैं. 

दरअसल, मंत्री उषा ठाकुर सोमवार को भोपाल में थीं. एक कार्यक्रम में जब वो राज्य संग्रहालय पहुंचीं तो यहां उनसे उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के फटी जीन्स वाले बयान पर प्रतिक्रिया ली गयी. इस पर उन्होंने कहा कि 'मेरी व्यक्तिगत मान्यता तो यह है कि भारतीय संस्कृति में, आपने भी देखा होगा कि हमारी दादी-नानी थोड़ा सा भी कपड़ा अगर हमारा फट जाता था तो मां कहती थी कि इसे रिजेक्ट करो. दादी कहती थीं कि अब इसे मत पहनना.' 

उषा ठाकुर ने कहा कि भारतीय संस्कृति में फटे कपड़े को अपशकुन माना जाता है और इसीलिए हमारे यहां जो संस्कृति निष्ठ परिवार हैं और जो परंपरागत जीवन शैली को जीते हैं वह लोग इस तरह के कपड़ों को पसंद नहीं करते हैं. 

बता दें कि हाल ही में उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री बने तीरथ सिंह रावत ने लड़कियों के फटी जीन्स पहनने पर सवाल खड़े किए थे. इसके बाद पूरे देश में बहस छिड़ गई थी और उन्हें माफी तक मांगनी पड़ी थी. यही नहीं, सोशल मीडिया में #rippedjeans चलाकर लोगों ने फटी जीन्स के साथ अपनी फोटो भी अपलोड की थी. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें