scorecardresearch
 

MP: दमोह उपचुनाव में हार पर नरोत्तम मिश्रा का बड़ा बयान, कहा- 'हम हारे अपने घर के जयचंदों से'

मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि हम छले गए हैं छलचंदों से, तो वहीं केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने इस हार के लिए साजिश की ओर इशारा किया है. दमोह में हार के बाद बीजेपी प्रत्याशी राहुल सिंह लोधी ने भी भितरघात को अपनी हार की वजह बताया था.

मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा (फाइल फोटो) मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दमोह में भाजपा को मिली है करारी हार
  • कांग्रेस के अजय टंडन ने BJP के राहुल सिंह लोधी को हराया

दमोह उपचुनाव में करारी हार के बाद अब बीजेपी के बड़े नेताओं ने भी इसके लिए भितरघात और साजिश को जिम्मेदार बताया है. गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि हम छले गए हैं छलचंदों से तो वहीं केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने इस हार के लिए साजिश की ओर इशारा किया है. दमोह में हार के बाद बीजेपी प्रत्याशी राहुल सिंह लोधी ने भी भितरघात को अपनी हार की वजह बताया था.

दरअसल दमोह उपचुनाव में कांग्रेस के अजय टंडन ने भाजपा के राहुल सिंह लोधी को 17,097 वोटों से हराया है. भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने इस हार पर मंधन के लिए कहा है. वहीं सोमवार को जब सूबे के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा से दमोह उपचुनाव में हार के बारे में सवाल पूछा गया तो उन्होने कहा कि 'दमोह नहीं हारे हैं हम, छले गए छलछन्दों से. इस बार लड़ाई हारे हैं हम, अपने घर के जयचंदों से'.

जाहिर तौर पर उन्होने किसी का नाम नहीं लिया लेकिन माना जा हा है कि उनका निशाना दमोह में पार्टी के बड़े स्थानीय नेताओं की तरफ है जिनके ऊपर दमोह जिताने की जिम्मेदारी थी जबकि भाजपा उनके अपने ही वार्ड में हार गई, ऐसा नहीं है कि अकेले नरोत्तम मिश्रा ही हार के लिए भितरघात को जिम्मेदार बता रहे हैं. भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय राज्यमंत्री प्रह्लाद पटेल ने भी दमोह उपचुनाव में हार के लिए षणयंत्र को वजह बताया है.

प्रह्लाद सिंह पटेल ने ट्वीट कर लिखा कि ''दमोह चुनाव परिणाम ने भविष्य की चुनौतियों, षड्यंत्रों और कार्यप्रणाली में सुधार के स्पष्ट संकेत दिए हैं. हम सभी कार्यकर्ता अपनी परिश्रम की मूल सामर्थ्य और विद्वेष रहित कार्यप्रणाली से इनका समाधान खोजेंगे. भारतीय जनता पार्टी को मतदान और सहयोग करने वाले सभी दमोह वासियों का धन्यवाद.''

आपको बता दें कि दमोह उपचुनाव में हारने के बाद राहुल सिंह लोधी ने भाजपा नेताओं पर हार का ठीकरा फोड़ा और उनके द्वारा किए गए भितरघात को अपनी हार की वजह बताया था. उन्होंने कहा था कि 'जिन नेताओं को शहर की ज़िम्मेदारी दी गई थी वो अपना वार्ड ही नहीं जितवा पाए और पूरे शहर के सभी वार्ड हार गए. यह पूरी तरह से भितरघात की वजह से हार हुई है. जो लोग कहते थे कि पार्टी हमारी मां है और मां से गद्दारी नहीं कर सकते  उन्होंने पूरी ताकत से बेईमानी की है और ज़बरदस्त भितरघात किया है'. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें