scorecardresearch
 

MP के पन्ना में मजदूर के हाथ लगा 15 लाख का हीरा, मनाया जश्न

हीरा मिलने के बाद मजदूर ने इसे कलेक्ट्रेट स्थित हीरा कार्यालय में जमा करा दिया है. हीरा कार्यालय के पारखी ने बताया कि आगामी नीलामी में इस हीरे को रखा जाएगा. नीलामी में हीरा बिकने पर रॉयल्टी काटने के बाद शेष राशि हीरा मालिक को दे दी जाएगी. 

खदान से मिला हीरा खदान से मिला हीरा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मजदूर को मिला हीरा
  • एक झटके में लखपति बन गया मजदूर

मध्य प्रदेश के पन्ना (MP, Panna) जिले में एक मजदूर की रातोंरात किस्मत बदल गई है. उसे खदान से 6.66 कैरेट का हीरा (Diamond) मिला है. इस हीरे की अनुमानित कीमत 12 से 15 लाख रुपये बताई जा रही है. खदान से हीरा मिलने के बाद मजदूर शमशेर खान के घर में जश्न का माहौल है. 

33 वर्षीय शमशेर पन्ना शहर के आगरा मोहल्ला के रहने वाले हैं. उन्हें हीरापुर टपरियन उथली खदान क्षेत्र से जेम क्वालिटी (हल्का पीलापन) वाला 6.66 कैरेट वजन का हीरा मिला है. इस हीरे की कीमत 12 से 15 लाख रुपये की बीच आंकी गई है. खदान में हीरा मिलने की खबर के बाद से शमशेर के घर में जश्न और खुशी का माहौल है. 

हीरा मिलने के बाद शमशेर ने इसे बुधवार को कलेक्ट्रेट स्थित हीरा कार्यालय में जमा करा दिया है. हीरा कार्यालय के पारखी अनुपम सिंह ने बताया कि आगामी नीलामी में इस हीरे को रखा जाएगा. नीलामी में हीरा बिकने पर रॉयल्टी काटने के बाद शेष राशि हीरा मालिक (शमशेर) को दे दी जाएगी. 

शमशेर खान

बता दें कि इससे पहले खदान क्षेत्र से 8.22 कैरेट वजन का हीरा पन्ना के ही बेनीसागर मोहल्ला निवासी रतन प्रजापति को मिला था. नीलामी में यह हीरा 37 लाख रुपये में बिका था. इसके बाद अब शमशेर नाम के शख्स को हीरा मिला है. 

बताया जा रहा है कि पन्ना के हीरा कार्यालय जो कि देश का इकलौता हीरा कार्यालय है में कर्मचारियों की भारी कमी है. जिसके कारण यहां कामकाज प्रभावित होता है और हीरा खदान क्षेत्रों की समुचित निगरानी भी नहीं हो पाती है. ऐसे में हीरा खदानों से निकलने वाले ज्यादातर हीरे चोरी-छिपे बिक जाते हैं. हीरा कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार मौजूदा समय यहां सिर्फ दो हवलदार बचे हैं, जबकि पूर्व में हीरा खदानों की निगरानी के लिए 34 हवलदार पदस्थ थे. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें