scorecardresearch
 

Madhya Pradesh: गर्दन से घुसा सरिया जबड़े से निकला बाहर, 2 घंटे चला ऑपरेशन, बच गई जान

युवक की हालत देखकर स्थानीय डॉक्टर ने उसे भोपाल रेफर कर दिया. यहां युवक को एक निजी अस्पताल में भर्ती किया गया. डॉक्टर उसे सीधे ऑपरेशन थिएटर ले गए और इलाज शुरू कर दिया. करीब 2 घंटे तक चले ऑपरेशन के बाद सरिया गले से निकाल लिया गया.

X
हादसे के दौरान लोहे का सरिया युवक की गर्दन से घुसकर जबड़े से बाहर निकल गया.
हादसे के दौरान लोहे का सरिया युवक की गर्दन से घुसकर जबड़े से बाहर निकल गया.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • स्थानीय डॉक्टर ने युवक को रेफर किया भोपाल
  • रायसेन जिले के बाड़ी-बरेली की घटना

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के डॉक्टर्स के पास एक ऐसा केस आया, जिसमें मरीज की गर्दन से घुसा सरिया जबड़े से बाहर निकल गया था. दो घंटे तक चले ऑपरेशन के बाद डॉक्टर किसी तरह उस शख्स की जान बचाने में सफल हो गए और सरिया निकालकर युवक की जान बचा ली.  

घटना रायसेन के बाड़ी बरेली की है. यहां 30 साल का युवक छत से गिर गया था. नीचे गिरने पर करीब 4 फीट लंबा लोहे का सरिया उसकी गर्दन में घुस गया और जबड़े को चीरता हुआ मुंह से बाहर निकल गया. युवक को परिजन उसे लेकर तुरंत नजदीकी अस्पताल पहुंचे. यहां उसकी गंभीर हालत को देखते हुए डॉक्टरों ने भोपाल रेफर कर दिया. 

निजी अस्पताल में किया भर्ती

भोपाल में युवक को एक निजी अस्पताल में भर्ती किया गया. डॉक्टरों ने युवक को सीधे ऑपरेशन थिएटर में ले जाकर इलाज शुरू कर दिया. करीब 2 घंटे तक चले ऑपरेशन के बाद सरिया गले से निकाल लिया गया.

देर रात किया गया ऑपरेशन

युवक का ऑपरेशन करने वाले डॉक्टर अखिलेश मोहन लहरी ने बताया कि देर रात इमरजेंसी मे 2 घंटे तक ऑपरेशन के बाद सरिये को निकाला गया और उसके मुंह में आई गंभीर चोटों को ठीक किया गया.

युवक की हालत स्थिर

इस ऑपेरशन में समय इसलिए लगा, क्योंकि सरिया गले से होता हुआ जबड़े से बाहर निकला था और श्वास नली के बेहद करीब था. इसलिए बेहद सावधानी से ऑपेरशन को अंजाम देना पड़ा. फिलहाल युवक की हालत स्थिर है. इस ऑपेरशन में डॉ.दीपा विश्वकर्मा और डॉ. सुनील रघुवंशी ने डॉ. अखिलेश का सहयोग किया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें