scorecardresearch
 

दिल्लीः केरल में राहुल गांधी के कार्यालय पर हमले के खिलाफ यूथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन

केरल के वायनाड में राहुल गांधी के संसदीय कार्यालय में एसएफआई कार्यकर्ताओं ने तोड़फोड़ की थी. इस घटना के खिलाफ यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने दिल्ली में सीपीएम कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया.

X
दिल्ली में यूथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन दिल्ली में यूथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कार्यकर्ताओं ने सीपीएम कार्यालय पर किया प्रदर्शन
  • हाथों में तख्तियां लेकर पहुंचे थे प्रदर्शनकारी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और केरल के वायनाड लोकसभा क्षेत्र से सांसद राहुल गांधी के संसदीय कार्यालय पर एक दिन पहले हमले का मामला सामने आया था. इस घटना को लेकर अब सियासत गर्म होती नजर आ रही है. केरल के वायनाड में राहुल गांधी के संसदीय कार्यालय में तोड़फोड़ की घटना के विरोध में शनिवार को यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ता सड़कों पर उतर आए और प्रदर्शन किया.

यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने शनिवार को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीएम) के कार्यालय के बाहर विरोध-प्रदर्शन किया. हाथों में तख्तियां लेकर सीपीएम कार्यालय के बाहर पहुंचे यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी के वायनाड स्थित संसदीय कार्यालय में तोड़फोड़ की घटना को लेकर नारेबाजी की और विरोध-प्रदर्शन किया.

यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी के संसदीय कार्यालय में वामपंथी छात्र संगठन स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI) के कार्यकर्ताओं की ओर से तोड़फोड़ किए जाने पर रोष व्यक्त किया. गौरतलब है कि एसएफआई कार्यकर्ताओं ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ मार्च निकाला था. सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में ये साफ कर दिया था कि संरक्षित वन, वन्यजीव अभयारण्य के आसपास के एक किलोमीटर दायरे में पूरे इलाके पर्यावरण संवेदनशील क्षेत्र (ESZ) रहने वाला है.

केरल में जो लोग इस दायरे में आ रहे हैं, उन्हें नियमों के सख्ती से अनुपालन को लेकर चिंता है. वायनाड में एसएफआई के कार्यकर्ताओं ने इसी के विरोध में मार्च निकाला था. प्रदर्शनकारी स्थानीय सांसद राहुल गांधी से उनका पक्ष जानना चाहते थे. प्रदर्शनकारियों ने राहुल गांधी के संसदीय कार्यालय में तोड़फोड़ भी की.

केरल सरकार ने इस मामले में कलपेट्टा के डीएसपी को निलंबित कर दिया है. केरल सरकार ने एडीजीपी रैंक के एक अधिकारी से इस घटना की जांच कराने के भी आदेश दे दिए हैं. केरल सरकार ने जांच के आदेश देने के साथ ही एक अधिकारी को निलंबित कर दिया है लेकिन इस घटना को लेकर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं में रोष है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें