scorecardresearch
 

उन्नाव रेप: एम्स में बनाया गया अस्थाई कोर्ट, पीड़िता का बयान होगा दर्ज

जज धर्मेश शर्मा एम्स के ट्रामा सेंटर पहुंच गए हैं. कुछ ही देर मे पीड़ित का बयान दर्ज किया जाएगा. दिल्ली हाई कोर्ट के आदेश पर अस्थाई कोर्ट बनाया गया है.

एम्स की फाइल फोटो एम्स की फाइल फोटो

उन्नाव रेप केस की पीड़िता का बयान दर्ज करने के लिए जज धर्मेश शर्मा एम्स के ट्रामा सेंटर पहुंच गए हैं. कुछ ही देर में पीड़िता का बयान दर्ज किया जाएगा. दिल्ली हाई कोर्ट के आदेश पर एम्स के ट्रॉमा सेंटर में अस्थाई कोर्ट बनाया गया है.

विशेष अदालत में दिल्ली पश्चिम के जिला एवं सत्र जज धर्मेश शर्मा ने कार्यवाही शुरू कर दी है. विशेष अदालत लगने से पहले ही केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने वहां की सुरक्षा के खास इंतजाम कर दिए थे. सीबीआई की टीम मामले से जुड़े तमाम संबंधित दस्तावेजों सहित अदालत शुरू होने से पहले ही सुबह करीब नौ बजे परिसर पहुंच चुकी थी. फिलहाल विशेष अदालत की ओर से पीड़िता के बयान दर्ज किए जाने की कार्यवाही चल रही है.

इस विशेष अदालत को लगाए जाने के संबंध में सीबीआई को सात सितंबर को ही आदेश जारी कर दिए गए थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें