scorecardresearch
 

केजरीवाल VS तेजिंदर बग्गा: तीन राज्यों की पुलिस आमने-सामने, दिल्ली से कुरुक्षेत्र तक महाभारत

तेजिंदर पाल सिंह बग्गा पर आरोप है कि उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया और समाज को धर्म और जाति के आधार पर बांटने की कोशिश की.

X
तेजिंदर बग्गा और अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो) तेजिंदर बग्गा और अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बीजेपी के नेता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा को पंजाब पुलिस ने किया गिरफ्तार
  • तेजिंदर बग्गा के पिता की शिकायत पर दिल्ली पुलिस ने अपहरण का मामला किया दर्ज
  • दिल्ली पुलिस की सिफारिश पर कुरुक्षेत्र में रोकी गई पंजाब पुलिस की टीम

बीजेपी के नेता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा को लेकर शुक्रवार को पंजाब, दिल्ली और हरियाणा की पुलिस आमने सामने आ गई. दिल्ली से लेकर कुरुक्षेत्र तक बवाल मचा हुआ. दरअसल, यह पूरा मामला शुक्रवार सुबह शुरू हुआ, जब पंजाब की पुलिस ने बीजेपी नेता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा को दिल्ली से गिरफ्तार किया. इसके बाद दिल्ली पुलिस ने बग्गा के अपहरण का केस दर्ज किया. उधर, दिल्ली से पंजाब लाई जा रही पुलिस की टीम को कुरुक्षेत्र में रोक लिया गया. आईए जानते हैं कि ये पूरा मामला क्या है?

पंजाब पुलिस ने किया गिरफ्तार

पंजाब पुलिस ने तेजिंदर पाल सिंह बग्गा को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया गया. तेजिंदर पाल सिंह बग्गा पर आरोप है कि उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया और समाज को धर्म और जाति के आधार पर बांटने की कोशिश की. पंजाब पुलिस के मुताबिक, तेजिंदर पाल सिंह बग्गा के खिलाफ 153-ए (धर्म, जाति, स्थान आदि के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना), 505 (बयान, अफवाह या रिपोर्ट प्रकाशित या प्रसारित करना) और 506 (आपराधिक धमकी) जैसी धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था.

दिल्ली पुलिस ने अपहरण का केस दर्ज किया

दिल्ली पुलिस ने तेजिंदर पाल सिंह बग्गा के अपहरण का मामला दर्ज किया है. ये मामला जनकपुरी थाने में दर्ज किया गया. बताया जा रहा है कि शिकायतकर्ता प्रीत पाल ने दिल्ली पुलिस को शिकायत दी है. उन्होंने कहा, कुछ लोग घर के अंदर घुस आए थे और उन्होंने मारपीट की. इतना ही नहीं शिकायत में प्रीत पाल ने कहा, तेजिंदर पाल सिंह बग्गा पगड़ी भी नहीं पहनने दी गई. मेरे साथ मारपीट की गई. पंच मारा.

दिल्ली पुलिस ने पंजाब पुलिस के जवानों पर मामला दर्ज किया गया है, जो बग्गा को दिल्ली से गिरफ्तार कर ले गए. IPC की धाराओं 452, 365, 342, 392, 295 / 34  मे पंजाब पुलिस के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है.  
 
कुरुक्षेत्र में पंजाब पुलिस की टीम रोकी गई

हरियाणा के कुरुक्षेत्र में क्राइम ब्रांच ने तेजिंदर सिंह बग्गा को ले जा रही पंजाब पुलिस की टीम को रोक लिया. इसके बाद पंजाब पुलिस टीम से पूछताछ की जा रही है. बताया जा रहा है कि दिल्ली पुलिस की सिफारिश पर कुरुक्षेत्र में पंजाब पुलिस की टीम को रोका गया है. सूत्रों के मुताबिक दिल्ली पुलिस की टीमें भी कुरुक्षेत्र जा सकती है.

उधर, पंजाब पुलिस ने हरियाणा के DGP को चिट्ठी भेजी है. इस चिट्ठी के साथ बग्गा के खिलाफ दर्ज FIR की कॉपी भी भेजी गई है. पंजाब पुलिस ने अपने पत्र में कहा है कि यह अपहरण का केस नहीं है. हरियाणा की पुलिस ने पंजाब टीम को बिना वजह रोका है. 

 


 बग्गा के पिता ने लगाए गंभीर आरोप

तेजिंदर बग्गा के पिता ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाये हैं. उन्होंने आजतक से कहा कि पहले दो पुलिसवाले आए. फिर अचानक पंजाब पुलिस के 10-15 पुलिसवाले आ गए. फिर मुझे पंच मारा और बेटे (बग्गा) को ले गए. उन्होंने बताया कि वहां दिल्ली पुलिस नहीं आई थी.

बग्गा को लेकर बीजेपी और आप आमने सामने 

बीजेपी नेता नूपुर शर्मा ने कहा, हमारी पार्टी के पुराने कार्यकर्ता तेजिन्द्र पाल बग्गा को जिस तरह से गिरफ्तार किया और उनके पिता को जिस तरह से मारा गया. उन्होंने कहा, अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि उन्हें पुलिस मिलने दो फिर मैं उन्हें बताऊंगा. जब उनके पास पुलिस नहीं थी तब उन्होंने अपने विधायक से दिल्ली के मुख्य सचिव को पिटवाया था. केजरीवाल ऐसे लोगों पर कार्रवाई करते हैं, जो उनकी सरकार की पोल खोलते हैं.

बीजेपी नेता मंजिंदर सिंह सिरसा ने कहा, जिस प्रकार से आज तजिंदर पाल बग्गा जी को गिरफ्तार किया गया, वो गैर-कानूनी है. अरविंद केजरीवाल बदले की राजनीति करते हैं. अरविंद केजरीवाल की सच्चाई लोगों को बताने वालों का ये मुंह बंद करना चाहते हैं. उनकी सच्चाई लोगों के सामने न आए, इसके लिए वो पंजाब पुलिस का दुरुपयोग कर रहे हैं. 

आप नेता सौरभ भारद्वाज ने कहा, तेजिंदर बग्गा का ट्विटर अकाउंट अभद्र भाषा के लिए जाना जाता है. वे समुदायों के खिलाफ दुश्मनी पैदा करते हैं. 2011 में बग्गा ने पीएफआई के कार्यक्रम में हंगामा किया था. 2019 में उन्हें अमित शाह की रैली में हंगामा करने के लिए बंगाल पुलिस ने गिरफ्तार किया था. सौरभ भारद्वाज ने कहा, हम पंजाब पुलिस की साइड नहीं ले रहे हैं. यह मामला दिल्ली और पंजाब पुलिस के बीच का है. 

 

  • क्या पंजाब पुलिस द्वारा तेजिंदर बग्गा की गिरफ्तारी सही है?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें