scorecardresearch
 

शाहीन बाग फायरिंग: कपिल को 2 दिन की पुलिस रिमांड, साकेत कोर्ट में हुई सुनवाई

दिल्ली के शाहीन बाग में दो राउंड फायरिंग करने वाले कपिल गुज्जर को साकेट कोर्ट ने दो दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है. इस दौरान आरोपी से पता लगाने की कोशिश की जाएगी की उसे हथियार कहां से मिला. साथ ही पुलिस ये भी पता लगाने की कोशिश करेगी कि वो किसी संगठन से जुड़ा तो नहीं है.

शाहीन बाग में फायरिंग करने वाला कपिल गुज्जर (Photo- Aajtak) शाहीन बाग में फायरिंग करने वाला कपिल गुज्जर (Photo- Aajtak)

  • पुणे एटीएस कोर्ट में एनआईए ने दाखिल की है याचिका
  • सुनवाई के लिए विशेष जज नवांदर ने मंजूर कर लिया

शाहीन बाग में शनिवार को गोलीबारी करने वाले कपिल गुज्जर को साकेत कोर्ट से 2 दिन की पुलिस रिमांड मिली है. दिल्ली पुलिस ने कपिल से पूछताछ के लिए कोर्ट से रिमांड मांगी थी. दिल्ली पुलिस ने अदालत से 3 दिन की रिमांड मांगी, लेकिन कोर्ट ने 2 दिन की इजाजत दी है.

जानकारी के मुताबिक, पुलिस यह भी जानने की कोशिश में है कि आखिर कपिल गुर्जर को हथियार कहां से मिला और क्या किसी संगठन ने उसको हथियार दिया था. अगर इस गोलीकांड में किसी व्यक्ति या संगठन के साजिश की बात सामने आती है, तो उसके खिलाफ भी दिल्ली पुलिस कार्रवाई करेगी.

ये भी पढ़ें- Delhi Election: राजधानी में प्रचार के लिए योगी, AAP ने की प्रतिबंध लगाने की मांग

कपिल ने दिल्ली के शाहीन बाग में शनिवार को दो राउंड फायरिंग की थी, जहां काफी लंबे समय से नए नागरिकता कानून के लिए विरोध प्रदर्श चल रहा है. इससे आहत कपिल ने इलाके में फायरिंग की जिसके बाद हड़कंप मच गया. हालांकि मौके पर मौजूद पुलिस ने फायरिंग के बाद फौरन कपिल को गिरफ्तार कर लिया.

शाहीन बाग में प्रदर्शन से नाराज कपिल

पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद आरोपी कपिल गुर्जर ने कहा कि हिंदुस्तान में सिर्फ हिंदुओं की चलेगी, किसी और की नहीं चलेगी. बताया जा रहा है कि शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शन से आरोपी कपिल गुर्जर बेहद नाराज चल रहा था. वह पूर्वी दिल्ली के दल्लूपुरा गांव का रहने वाला है.

ये भी पढ़ें- दिल्ली: कड़कड़डूमा ग्राउंड में सीवर सफाई के दौरान 1 सफाईकर्मी की मौत, 1 बेहोश

गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ दिल्ली में प्रदर्शन कर रहे लोगों पर फायरिंग की यह दूसरी घटना है. इससे पहले जामिया में नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों पर एक नाबालिग ने फायरिंग की थी. इसमें जामिया मिलिया इस्लामिया का एक छात्र घायल हो गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें