scorecardresearch
 

दिल्ली विधानसभा चुनाव में कुल 668 उम्मीदवार, सबसे ज्यादा केजरीवाल की सीट पर

दिल्ली विधानसभा के लिए 8 फरवरी को चुनाव होने होंगे. नतीजे 11 फरवरी को आएंगे. चुनाव आयोग ने दिल्ली चुनाव के लिए उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर दी है.

X
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Photo- Twitter) मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Photo- Twitter)

  • दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों की अंतिम सूची जारी
  • नई दिल्ली सीट पर सीएम केजरीवाल के अलावा 27 अन्य उम्मीदवार

चुनाव आयोग ने दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों की अंतिम सूची जारी कर दी है. नई दिल्ली विधानसभा सीट पर सबसे ज्यादा प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं. इस बहुचर्चित सीट से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के अलावा 27 अन्य उम्मीदवार मैदान में हैं.

चुनाव आयोग ने अपने एक बयान में कहा है, 'दिल्ली 70 सीटों वाली विधानसभा के लिए कुल 668 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं. सबसे ज्यादा 28 उम्मीदवार नई दिल्ली सीट से हैं, जबकि सबसे कम 4 उम्मीदवार पटेल नगर सीट से चुनाव लड़ रहे हैं.'

ये भी पढ़ें- Delhi Election 2020: शाहीन बाग को 'मिनी पाकिस्तान' कहकर बुरे फंसे कपिल मिश्रा, FIR दर्ज

शुक्रवार को नामांकन वापस लेने का आखिरी दिन था. इसके बाद चुनाव आयोग ने उम्मीदवारों की आखिरी सूची जारी की. 21 जनवरी को नामांकन का आखिरी दिन था. इस दिन नामांकन कराने वाले उम्मीदवारों की भीड़ लग गई थी, इसलिए केजरीवाल समेत अन्य उम्मीदवारों को पांच-छह घंटे तक इंतजार करना पड़ा था.

दिल्ली में 8 फरवरी को चुनाव

दिल्ली में 8 फरवरी को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होना है, जिसके नतीजे 11 फरवरी को आएंगे. दिल्ली में पिछले विधानसभा चुनाव में 673 उम्मीदवारों ने चुनाव में भाग लिया था. इस बार नामांकन वापस लेने के अंतिम दिन तक 30 उम्मीदवारों ने अपना नामांकन वापस ले लिया.

ये भी पढ़ें- Delhi Election: सीएम केजरीवाल का बीजेपी पर तंज, बोले- यहां सिर्फ काम की बात चलेगी

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की विधानसभा में काबिल होने के लिए आम आदमी पार्टी (AAP), कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है. पिछले चुनाव में आम आदमी पार्टी ने 70 सीटों में से 67 सीटें जीत ली थीं. बीजेपी को तीन सीट मिली थी, जबकि कांग्रेस को एक भी सीट नसीब नहीं हुई थी.

अब सभी पार्टियों के स्टार प्रचारक शहर के हर गली मोहल्ले में पहुंचने की कोशिश में लग गए हैं, क्योंकि चुनाव प्रचार के लिए मुश्किल से एक पखवाड़े का समय है. दिल्ली में 13,463 मतदान केंद्रों के लिए लगभग 13,000 कर्मचारी तैनात किए गए हैं. नगर निगमों ने चुनाव से 15 दिन पहले ही इन कर्मचारियों के ठहरने की व्यवस्था भी कर दी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें