scorecardresearch
 

जेपी नड्डा का केजरीवाल पर तंज- कैसे अच्छे बीते 5 साल, जब नहीं करने दिया काम?

दिल्ली में अरविंद केजरीवाल सरकार बीते 5 साल में हर बार केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर काम न करने देने का आरोप लगाती रही है. उपराज्यपाल के साथ मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की तनातनी की खबरें कई बार सामने आईं. बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने अरविंद केजरीवाल पर एक चुनावी सभा के दौरान तंज कसा और कहा कि अगर हमने आपको काम करने नहीं दिया तो कैसे आपके 5 साल अच्छे बीते?

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा (फोटो- ट्विटर@JPNadda) भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा (फोटो- ट्विटर@JPNadda)

  • अच्छे बीते 5 साल, लगे रहो केजरीवाल AAP का चुनावी नारा
  • जेपी नड्डा ने 5 साल अच्छे बीतने पर केजरीवाल से पूछा सवाल
भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल के 'अच्छे बीते 5 साल' के नारे पर तंज कसा है. जेपी नड्डा ने अरविंद केजरीवाल पर हमला बोलते हुए कहा कि पहले कहते थे कि हमें(AAP) काम नहीं करने दिया. अब नारा लगा रहे हैं कि अच्छे बीते 5 साल. ये अच्छे कैसे बीते जब आपको काम नहीं करने दिया?

दरअसल अच्छे बीते 5 साल, लगे रहो केजरीवाल', ये नारा आम आदमी पार्टी ने दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए दिया है. इसी नारे के साथ अरविंद केजरीवाल एक बार फिर चुनावी मैदान में उतर गए हैं. अपने हर चुनावी रैली में अरविंद केजरीवाल कहत रहे हैं कि केंद्र सरकार ने उन्हें काम नहीं करने दिया है. ऐसे में दिल्ली की महरौली में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने उनसे सीधा सवाल पूछा है.

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने महरौली विधानसभा में एक बैठक को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने अरविंद केजरीवाल सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि दिल्ली ने बीते 5 साल में केवल विज्ञापन देखे हैं, विकास नहीं देखने को मिला है. दिल्ली में अपनी जीत को लेकर आश्वस्त दिखे जेपी नड्डा ने कहा कि दिल्ली की जनता इस बार बीजेपी को प्रचंड बहुमत से विजय प्रदान कर दिल्ली को विकास से सुसज्जित करने का काम करेगी.

यह भी पढ़ें: अमित शाह का हमला, कहा- अन्ना हजारे की बदौलत CM बने केजरीवाल, लेकिन लोकपाल भूल गए

CAA के बारे में फैलाया जा रहा भ्रम

जेपी नड्डा ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश के आगरा में नागरिकता कानून(सीएए) के समर्थन में भी रैली की. जेपी नड्डा ने कहा कि दलित नेता और कांग्रेस सीएए के बारे में सिर्फ भ्रम फैला रहे हैं. इनकी राजनीति समाप्त हो चुकी है , इनको समझ में आ गया है कि देश बदल चुका है, मोदी के नेतृत्व में तीव्र गति से आगे बढ़ रहा है. सीएए नागरिकता देने का कानून है, नागरिकता लेने का नहीं.

नीतियों और कार्यकर्ताओं के आधार पर खड़ी बीजेपी

जेपी नड्डा ने आगरा में कहा कि बीजेपी नीतियों और कार्यकर्ताओं के आधार पर खड़ी है. कांग्रेस पार्टी हताश हो चुकी है. कांग्रेस पार्टी का नेतृत्व मानसिक दिवालियेपन से गुजर रहा है. कांग्रेस पार्टी के पिछले 8 महीने के वक्तव्य पाकिस्तान को मदद करने वाले दिखाई देंगे. जम्मू कश्मीर पर अनुच्छेद 370 कई वर्षों से लटका था, अगर ये अच्छा कानून था तो कांग्रेस जब सरकार में थी, तो इसे स्थाई क्यों नहीं किया गया. अब अनुच्छेद 370 हटने के बाद से जम्मू कश्मीर की धरती पर भारत के 103 कानून लागू होने जा रहे हैं.

गृह मंत्री अमित शाह भी दिल्ली में कर रहे चुनाव प्रचार

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत कर चुके हैं.  गृह मंत्री अमित शाह ने चुनावी रैली की शुरुआत में ही मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर दंगा भड़काने का आरोप लगाया और कहा कि नागरिकता कानून को लेकर दिल्ली सरकार भम्र फैला रही है.

यह भी पढ़ें: दिल्ली: पुलिस की सख्ती, शाह की रैली से पहले लोगों से उतरवाई गई काली टोपी

अमित शाह ने कहा कि दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने यह कहकर कि वह शाहीनबाग में चल रहे आंदोलन के समर्थन में खड़े हैं, साबित कर दिया कि नागरिकता कानून को लेकर दिल्ली सरकार भम्र फैला रही है. दिल्ली के द्वारका के मटियाला में बीजेपी उम्मीदवार के समर्थन में रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि खुद उपमुख्यमंत्री गलत वीडियो ट्वीट कर दिल्ली में शांति भंग करने की कोशिश कर रहे हैं। क्या ऐसे लोगों के हाथ में आप फिर सत्ता फिर से देंगे?

कांग्रेस पर भी बरसे अमित शाह

अमित शाह ने कांग्रेस के नेता राहुल गांधी पर भी आरोप लगाया कि वो पाकिस्तान के पीएम इमरान खान की भाषा बोल रहे हैं. जेएनयू का जिक्र करते हुए अमित शाह ने कहा कि जो लोग देश के टुकड़े करने की बात कह रहे हैं, उन्हें क्या जेल नहीं भेजा जाना चाहिए.

11 फरवरी को आएंगे चुनावी नतीजे

दिल्ली में विधानसभा चुनाव के लिए 8 फरवरी को मतदान होना है. यहां मुख्य मुकाबला तीन प्रमुख दलों आम आदमी पार्टी, भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस के बीच है. चुनाव के नतीजे 11 फरवरी को घोषित किए जाएंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें