scorecardresearch
 

दिल्ली: सीलिंग के विरोध में व्यापारियों ने निकाली शवयात्रा

दिल्ली में सीलिंग के खिलाफ व्यापारियों और मार्केट एसोसिएशन के बीच एकजुटता नजर आ रही है. अमर कॉलोनी के कपड़ा मार्केट में सीलिंग के विरुद्ध बुधवार को एक शव यात्रा निकाली गई. हजारों की संख्या में व्यापारी पहुंचे और सीलिंग का दाह संस्कार किया.

व्यापारियों ने निकाली सीलिंग की शवयात्रा व्यापारियों ने निकाली सीलिंग की शवयात्रा

दिल्ली में सीलिंग के खिलाफ व्यापारियों और मार्केट एसोसिएशन के बीच एकजुटता नजर आ रही है. अमर कॉलोनी के कपड़ा मार्केट में सीलिंग के विरुद्ध बुधवार को एक शव यात्रा निकाली गई. हजारों की संख्या में व्यापारी पहुंचे और सीलिंग का दाह संस्कार किया.

बता दें कि पिछले हफ्ते अमर कॉलोनी की 450 से अधिक दुकानें सील हो चुकी हैं. इसी के चलते व्यपारियों में भारी रोष है. दुकानें छिन जाने और आमदनी बंद हो जाने का खतरा यहां दुकानदारों के साथ-साथ दुकानों पर काम करने वाले कामगारओं को भी सता रहा है.

दुकानदार दिल्ली ट्रेडर यूनियन के साथ मिलकर उग्र आंदोलन की चेतावनी दे रहे हैं. अमर कॉलोनी मार्केट प्रेसिडेंट विजय ने कहा, "यह तो शुरुआत है. आज हमने सीलिंग की अर्थी निकाली है. हम चाहते हैं कि दिल्ली से सीलिंग पूरी तरह से खत्म हो जाए. अगर सरकार हमारी नहीं सुनती है तो यह शांतिपूर्ण चल रहा आंदोलन उग्र हो सकता है."

लगे मर गई सीलिंग हाय हाय के नारे

शव यात्रा में "मर गई सीलिंग हाय हाय" के नारे लगे.  साथ ही सीलिंग की अर्थी के साथ हज़ारों की संख्या में व्यापारियों और कामगारों का हुजूम ने अमर कॉलोनी बाजार का पूरा चक्कर काट कर बाजार के चौक पर पुतलों को जलाया. बता दें कि बुधवार को दिल्ली में कई जगहों पर सीलिंग की अर्थी निकली.

सरकार पर दबाव के लिए निकाली अर्थियां

एक व्यापारी नीरज ने कहा कि सरकार पर दबाव बनाने के लिए हम अर्थियां निकाल रहे हैं. आज जो यह हो रहा है वैसा ही कल हमारे परिवारों के साथ हो सकता है. अगर हमारी दुकानें नहीं खोली गई तो हमारे पास आत्महत्या के अलावा कोई रास्ता नहीं बचता है. इसके ज़िम्मेदार केंद्र और दिल्ली की सरकार होगी.

मुख्यमंत्री आवास पर किया प्रदर्शन

अमर कॉलोनी बाजार से व्यापारियों ने भारी संख्या में मुख्यमंत्री निवास के बाहर पहुच कर प्रदर्शन भी किया. बेरोजगार हो जाने का दुख और दुकाने छिन जाने का डर दिल्ली के तमाम दुकानदारों को सता रहा है. ऐसे में ये सीलिंग पर रोक लगा कर दुकानों को जल्द ही सील करने की मांग और तेज़ कर रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें