scorecardresearch
 

Delhi Mundka Fire: फैक्ट्री मालिक वरुण और हरीश के पिता अमरनाथ की भी आग में झुलसकर मौत

Delhi Mundka fire update: पश्चिमी दिल्ली के मुंडका मेट्रो स्टेशन के पास शुक्रवार शाम एक कमर्शियल बिल्‍ड‍िंग में आग लग गई थी. इस हादसे में 27 लोगों की जान चली गई, जबकि 19 लोग अभी भी लापता हैं.

X
आग लगने से इमारत तबाह हो गई. आग लगने से इमारत तबाह हो गई.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मुंडका मेट्रो स्टेशन के पास लगी आग
  • हादसे में 27 लोगों की जान चली गई

पश्चिमी दिल्ली के मुंडका मेट्रो स्टेशन के पास शुक्रवार शाम लगी आग में कंपनी मालिक वरुण और हरीश गोयल के पिता अमरनाथ की भी मौत हो गई. बताया गया कि जिस वक्त आग लगी, उस समय मोटिवेशनल स्पीच चल रही थी, और अमरनाथ वहां मौजूद थे. वह आग में फंसे और निकल नहीं पाए. 

जानकारी मिली कि बुजुर्ग अमरनाथ गोयल भी दूसरे लोगों की तरह आग में काफी ज्यादा झुलस गए थे और अस्पताल में उनकी मौत हो गई. 

उधर, कमर्शियल बिल्‍ड‍िंग में कंपनी  चलाने वाले मालिक हरीश गोयल और वरुण गोयल के खिलाफ एफआईआर दर्ज हो गई है. दोनों को पुलिस गैर इरादतन हत्या के आरोप में  गिरफ्तार कर चुकी है. जबकि बिल्डिंग मालिक मनीष लाकड़ा फिलहाल फरार है. 

कंपनी मालिक हरीश गोयल

इस तीन मंजिला इमारत में पहले माले पर मैन्युफैक्चरिंग यूनिट थी. दूसरे माले पर वेयर हाउस और तीसरे पर लैब थी. सबसे ज्यादा मौत अब तक दूसरे माले पर बताई गई हैं.

दरअसल, इसी दूसरे माले पर ही मोटिवेशनल स्पीच चल रही थी. इस कार्यक्रम के चलते ही ज्यादा लोग यहां मौजूद थे.  बाकी छत पर एक बिल्डिंग के मालिक ने अपना एक छोटा-सा फ्लैट बनाकर रखा था. 

वहीं, शनिवार सुबह दोबारा से फायर विभाग और NDRF ने अपना सर्चिंग ऑपरेशन एहतियातन शुरू किया.  NDRF के मुताबिक, अभी तक के सर्च ऑपेरशन में कई जगह बॉडी पार्ट्स मिले हैं. मरने वालों की पहचान और शरीर के अंगों की पहचान के लिए DNA टेस्ट कराया जाएगा. 

बता दें कि राजधानी दिल्ली के पश्चिमी इलाके में मुंडका मेट्रो स्टेशन के पास स्थित 4 मंजिला कमर्शियल बिल्‍ड‍िंग में शुक्रवार शाम आग लगने से कम से कम 27 लोगों की मौत हो गई और 19 अन्य झुलस गए, जिन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.

आग बिल्डिंग की पहली मंजिल से लगनी शुरू हुई, जहां सीसीटीवी कैमरा और राउटर निर्माता कंपनी Cofe Impex Private Limited का दफ्तर था. आग बुझाने के काम में 30 से अधिक दमकल वाहनों को लगाया गया. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें