scorecardresearch
 

अमानतुल्ला के खिलाफ लोकसभा में विशेषाधिकार हनन का नोटिस लाएंगे मनोज तिवारी

दिल्ली के सिग्नेचर ब्रिज पर राजनीति खत्म होने का नाम नहीं ले रही. ब्रिज के उद्घाटन के अवसर पर मचा बवाल पुलिस थाने तक पहुंचने के बाद अब लोकसभा में भी पहुंचने जा रहा है क्योंकि स्थानीय सांसद मनोज तिवारी ने इस प्रकरण पर विशेषाधिकार हनन का नोटिस लाने जा रहे हैं.

X
दिल्ली बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी  (फाइल/ PTI)
दिल्ली बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी (फाइल/ PTI)

बीजेपी की दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी ने शुक्रवार को कहा कि वह आम आदमी पार्टी विधायक अमानतुल्ला खान के खिलाफ लोकसभा में विशेषाधिकार हनन का नोटिस लाएंगे. तिवारी का आरोप है कि इस महीने की शुरुआत में सिग्नेचर ब्रिज के उद्घाटन के दौरान अमानतुल्ला ने कथित तौर पर उनके साथ मारपीट की थी और उन्हें धमकाया था.

चार नवंबर को कार्यक्रम के दौरान हुई घटना के बाद दिल्ली में सत्तारूढ़ AAP और बीजेपी ने मार-पीट का आरोप लगाते हुए एक-दूसरे के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी. एक महीने तक चलने वाला संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसंबर से शुरू होने वाला है.

मनोज तिवारी ने कहा, 'मैं आप विधायक अमानतुल्ला खान के खिलाफ लोकसभा की प्रक्रिया और कार्य संचालन नियम के 20वें अध्याय की नियम संख्या 222 के तहत विशेषाधिकार हनन नोटिस लाऊंगा.'

उत्तर-पूर्वी दिल्ली से सांसद तिवारी इस कार्यक्रम में अपना विरोध प्रदर्शित करने के लिए गए थे. उनका आरोप था कि इलाके का सांसद होते हुए भी उन्हें उद्घाटन में कथित तौर पर आमंत्रित नहीं किया गया था.

सांसद तिवारी ने आरोप लगाया था कि अमानतुल्ला खान ने सार्वजनिक स्थान पर उनके साथ कथित तौर पर 'धक्कामुक्की की, धमकाया, रोका और डराया.'

बता दें कि दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी का आरोप है कि ओखला से आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्ला खान ने उन्हें मंच से गिराने की कोशिश की. तिवारी ने कहा कि जब मुझे धक्का देने से पहले अमानतुल्ला ने किसी से विचार विमर्श किया. मनोज तिवारी ने नाम लिए बिना केजरीवाल और सिसोदिया की तरफ इशारे करते हुए कहा था कि सलाह के बाद मुझे धक्का दिया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें