scorecardresearch
 

Manish Sisodia CBI Searches: 7 राज्य, 21 ठिकानों पर छापेमारी...शराब पॉलिसी पर मनीष सिसोदिया के खिलाफ CBI का एक्शन

दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के घर सीबीआई की टीम पहुंची है. मनीष सिसोदिया ने भी ट्वीट कर यह जानकारी दी है. उन्होंने ट्वीट कर कहा, सीबीआई आई है. उनका स्वागत है. हम कट्टर ईमानदार हैं . लाखों बच्चों का भविष्य बना रहे हैं. बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि हमारे देश में जो अच्छा काम करता है उसे इसी तरह परेशान किया जाता है. इसीलिए हमारा देश अभी तक नम्बर-1 नहीं बन पाया.

X
मनीष सिसोदिया के आवास पर सीबीआई के छापे
14:19
मनीष सिसोदिया के आवास पर सीबीआई के छापे

दिल्ली की चर्चित शराब नीति में गड़बड़ी के मामले में केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई एक्शन में आ गई है. सीबीआई ने शुक्रवार को दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के आवास पर छापेमारी की. इतना ही नहीं सीबीआई ने पूर्व एक्साइज कमिश्नर अरावा गोपी कृष्णना के आवास समेत 7 राज्यों के 21 ठिकानों पर छापेमारी की. सीबीआई की कार्रवाई पिछले 5 घंटे से जारी है.

सीबीआई की ये कार्रवाई दिल्ली सरकार की एक्साइज पॉलिसी को लेकर है. दरअसल, पिछले दिनों दिल्ली के उपराज्यपाल विनय सक्सेना ने सीबीआई जांच की सिफारिश की थी. एलजी वीके सक्सेना ने मुख्य सचिव की रिपोर्ट के बाद यह कदम उठाया था. इस रिपोर्ट में मनीष सिसोदिया की भूमिका पर भी सवाल उठाए गए हैं. दरअसल, दिल्ली का एक्साइज विभाग मनीष सिसोदिया के अधीन है. 

चार अफसर भी सीबीआई के रडार पर

गोपी कृष्णना के अलावा तीन और अफसरों के यहां छापेमारी की गई है. गोपी कृष्णना पूर्व एक्साइज कमिश्नर हैं, उन्होंने ही इस 'विवादित' नीति को बनाया और लागू किया. इतना ही नहीं वे उन 11 अफसरों में भी शामिल हैं, जिनके खिलाफ दिल्ली एलजी ने अनुशासनात्मक कार्रवाई का आदेश दिया है. 

CBI raid at Manish Sisodia: एक्साइज पॉलिसी पर कैसे घिरे मनीष सिसोदिया? CBI क्यों कर रही है जांच
 
सीबीआई का स्वागत है- मनीष सिसोदिया

मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर सीबीआई के छापेमारी की जानकारी दी. उन्होंने ट्वीट कर कहा, सीबीआई आई है. उनका स्वागत है. हम कट्टर ईमानदार हैं. लाखों बच्चों का भविष्य बना रहे हैं. बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि हमारे देश में जो अच्छा काम करता है उसे इसी तरह परेशान किया जाता है. इसीलिए हमारा देश अभी तक नम्बर-1 नहीं बन पाया.

मनीष सिसोदिया के घर पहुंची सीबीआई की टीम

सिसोदिया ने कहा, जांच में पूरा सहयोग देंगे ताकि सच जल्द सामने आ सके. अभी तक मुझ पर कई केस किए लेकिन कुछ नहीं निकला. इसमें भी कुछ नहीं निकलेगा. देश में अच्छी शिक्षा के लिए मेरा काम रोका नहीं जा सकता. 

उन्होंने कहा, 'ये लोग दिल्ली की शिक्षा और स्वास्थ्य के शानदार काम से परेशान हैं. इसीलिए दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन और शिक्षा मंत्री को पकड़ा है ताकि शिक्षा स्वास्थ्य के अच्छे काम रोके जा सकें. हम दोनों के ऊपर झूंठे आरोप हैं. कोर्ट में सच सामने आ जाएगा.' दरअसल, ईडी ने पिछले दिनों मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में सत्येंद्र जैन को गिरफ्तार किया था.

मनीष सिसोदिया के घर CBI रेड के बीच AAP सांसद राघव चड्ढा ने कहा कि देश के लोग कहने लगे हैं कि 'मोदी बनाम केजरीवाल'. राष्ट्रीय विकल्प आम आदमी पार्टी और अरविंद केजरीवाल बन गए हैं. उन्होंने कहा कि केजरीवाल को ख़त्म करने के मकसद से CBI और ED का इस्तेमाल हो रहा है. पंजाब चुनाव जीतने के बाद अरविंद केजरीवाल का देशभर में ग्राफ बढ़ा है इसलिए CBI जैसी एजेंसी को काम पर लगा दिया गया है.

'न्यूयॉर्क टाइम्स में ख़बर पढ़कर PM मोदी का मन मचला होगा'

चड्ढा ने कहा कि न्यूयॉर्क टाइम्स में ख़बर पढ़कर PM मोदी का मन भी मचला होगा, इसलिए CBI से रेड करवा दी. केजरीवाल को रोकने के लिए स्वास्थ्य मंत्री को जेल में डाल दिया और अब शिक्षा मंत्री के घर CBI की रेड कर दी. PM मोदी केजरीवाल मॉडल को बर्बाद, ख़त्म करना चाहते हैं.

'केजरीवाल लहर का नाम है'

AAP सांसद राघव चड्ढा ने सवाल उठाया कि गुजरात में 10 हजार करोड़ अवैध शराब रोकने के लिए कभी CBI गुजरात गयी? गुजरात में ड्रग्स बरामद हुए, क्या CBI वहां गयी? भाजपा के नेता भ्रष्टाचार करते हैं क्या CBI वहां गयी? बुंदेलखंड एक्सप्रेस का उद्घाटन PM मोदी ने किया जो कुछ दिनों बाद पानी में बह गया, क्या CBI वहां गयी? केजरीवाल उस लहर का नाम है जिसे CBI, ED या पुलिस की गीदड़ भभकी नहीं रोक सकती है. जैसे जैसे अरविंद केजरीवाल की लोकप्रियता बढ़ती है वैसे वैसे CBI ED की कार्रवाई बढ़ेगी.

क्यों सवालों में है केजरीवाल की शराब नीति?

नई एक्साइज ड्यूटी में गड़बड़ी के आरोप हैं. इसके जरिए शराब लाइसेंसधारियों को अनुचित लाभ पहुंचाने का भी आरोप है. लाइसेंस देने में नियमों की अनदेखी की गई. टेंडर के बाद शराब ठेकेदारों के 144 करोड़ रुपए माफ किए गए. रिपोर्ट में कहा गया है कि इस नीति के जरिए कोरोना के बहाने लाइसेंस की फीस माफी की गई. रिश्वत के बदले शराब कारोबारियों को लाभ पहुंचाया गया. आरोप है कि नई आबकारी नीति के तहत उठाए गए कदमों से राजस्व को भारी नुकसान पहुंचा है और यह नई नीति शराब कारोबारियों को लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से लाई गई.

केजरीवाल ने साधा निशाना

अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, CBI का स्वागत है. पूरा सहयोग करेंगे. पहले भी कई जांच-रेड हुईं. कुछ नहीं निकला। अब भी कुछ नहीं निकलेगा. जिस दिन अमेरिका के सबसे बड़े अखबार NYT के फ्रंट पेज पर दिल्ली शिक्षा मॉडल की तारीफ और मनीष सिसोदिया की तस्वीर छपी, उसी दिन मनीष के घर केंद्र ने सीबीआई भेजी. 
 

 

सिसोदिया के घोटाले जनता के सामने आ रहे- बीजेपी
 

 

 



 

  • क्या मनीष सिसोदिया के घर सीबीआई के छापे राजनीति से प्रेरित हैं?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें