scorecardresearch
 

'बिहार में सीएम पद पर वैकेंसी नहीं है', आरसीपी सिंह पर बोले जदयू अध्यक्ष

एक वक्त था, जब रामचंद्र प्रसाद सिंह जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष थे. पार्टी में उनका अपना रुतबा था. लेकिन अब वो पार्टी में हाशिए पर चले गए हैं. उनके बारे में जदयू के मौजूदा राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने यहां एक जो बात कही, वो पार्टी में उनके भविष्य के बारे में साफ संकेत देती है. जानें आखिर ऐसा क्या कहा ललन सिंह ने...

X
ललन सिंह और आरसीपी सिंह (फाइल फोटो)
ललन सिंह और आरसीपी सिंह (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ‘100-200 लोगों के नारे लगाने से कुछ नहीं होगा’
  • ‘नीतीश कुमार जदयू के सर्वमान्य नेता, हमारे CM'

जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह का पार्टी में क्या भविष्य होगा. ये बात अब लगभग साफ होती नजर आ रही है. यहां एक कार्यक्रम में जब ‘बिहार का सीएम कैसा हो? आरसीपी सिंह जैसा हो’ के नारे लगे तो पार्टी के मौजूदा राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह बिफर गए. उसके बाद उन्होंने आरसीपी सिंह को लेकर जो बात कही, उसके अपने सियासी मायने हैं....

बिहार में नीतीश कुमार ही हैं सीएम

आरसीपी सिंह को लेकर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए ललन सिंह ने कहा- नीतीश कुमार जदयू के एक मात्र सर्वमान्य नेता हैं. नीतीश कुमार बिहार के और हमारे सीएम हैं. बिहार को गर्व है कि नीतीश कुमार उनके सीएम हैं.

ललन सिंह ने आगे कहा कि 15 करोड़ की आबादी वाले बिहार में कौन क्या नारा लगाता है. किसी को उससे फर्क नहीं पड़ता. सौ-दो सौ लोगों के कुछ भी नारा लगा देने से कुछ नहीं होता है. बिहार में अभी सीएम पद की कोई वैकेंसी नहीं है. नीतीश कुमार ही सब कुछ हैं.

दरअसल ललन सिंह बिहार के जहानाबाद में एक श्रद्धाजंलि कार्यक्रम में पहुंचे थे. यहां उन्होंने मीडिया से बातचीत के दौरान ये बातें कहीं. आरसीपी सिंह के समर्थन में लगे नारों से वो थोड़े असहज नजर आए. 

टूटा आरसीपी सिंह का सपना

जदयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री रामचंद्र प्रसाद सिंह फिलहाल बिहार की राजनीति में किसी के 'हनुमान' नहीं हैं. पहले उनका राज्यसभा जाने का सपना टूटा और फिर केंद्रीय मंत्रिमंडल से उनका इस्तीफा हुआ. जिस सरकारी मकान में वो सियासी गूफ्तगूं करते थे, उसे खाली करा लिया गया. कुछ समय तक देश के बड़े संतों से मिलकर आशीर्वाद लेने वाले आरसीपी फिलहाल बिहार में हैं और अपनी राजनीतिक जमीन को तलाशने में जुटे हैं.

आरसीपी सिंह को लेकर ललन सिंह ने कहा कि उनके समर्थन में लगने वाले नारे का कोई मतलब नहीं है. आरसीपी खुद को नालंदा और नीतीश को बख्तियारपुर का बता रहे हैं. इस पर ललन सिंह ने कहा कि इस बात का कोई मतलब नहीं है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें