scorecardresearch
 

चिराग को सबक सिखाने के मूड में नीतीश? मंत्री से मिलने पहुंचे LJP के इकलौते विधायक

नीतीश कुमार एलजेपी के इकलौते विधायक राजकुमार सिंह को अपने पाले में करने की कोशिश में लगे हैं. राजकुमार सिंह ने सोमवार को नीतीश के करीबी मंत्री अशोक चौधरी से उनके आवास पर पहुंचकर मुलाकात की.

एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान और सीएम नीतीश कुमार (फाइल फोटोः पीटीआई) एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान और सीएम नीतीश कुमार (फाइल फोटोः पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कहा- हम शुरू से एनडीए के साथ
  • बिहार में एनडीए नीतीश कुमार का

बिहार में कुछ माह पहले हुए विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाइटेड सीटों के मामलों में विपक्षी राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के बाद तीसरे स्थान पर फिसल गई थी. बीजेपी के अच्छे प्रदर्शन से नीतीश कुमार सरकार बचाने में सफल रहे. जेडीयू को कई सीटों पर लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) की वजह से हार मिली. अब लगता है सीएम नीतीश चिराग पासवान से बदला लेने के मूड में है.

नीतीश कुमार एलजेपी के इकलौते विधायक राजकुमार सिंह को अपने पाले में करने की कोशिश में लगे हैं. राजकुमार सिंह ने सोमवार को नीतीश के करीबी मंत्री अशोक चौधरी से उनके आवास पर पहुंचकर मुलाकात की. हालांकि, राजकुमार सिंह ने नीतीश की पार्टी में शामिल होने की अटकलें खारिज करते हुए कहा कि चौधरी से उनके पुराने संबंध हैं.

देखें: आजतक LIVE TV

एलजेपी के इकलौते विधायक से जब यह पूछा गया कि चिराग पासवान लगातार नीतीश कुमार पर हमलावर रहते हैं, इस पर उन्होंने कहा कि आप उनकी बात मेरे मुंह में मत डालिए. राजकुमार सिंह ने दावा किया कि वे राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) का हिस्सा हैं. उनसे जब यह पूछा गया कि कौन से एनडीए में हैं नीतीश वाले में चिराग वाले में? इसके जवाब में राजकुमार सिंह ने कहा कि बिहार में एनडीए अभी नीतीश कुमार का है.

राजकुमार सिंह ने जेडीयू में शामिल होने की अटकलें खारिज तो कीं, लेकिन एनडीए को नीतीश का बताकर और हवा भी दे दी. राजकुमार सिंह के इस बयान के मायने लगाए जा रहे हैं कि आने वाले दिनों में वे एलजेपी छोड़कर जेडीयू का दामन थाम सकते हैं. दरअसल, वे अशोक चौधरी के घर आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे. विधानसभा चुनाव के दौरान जिस तरीके से चिराग पासवान, सीएम नीतीश कुमार के खिलाफ आक्रामक रहे. उसके बाद उनके इकलौते विधायक का मंत्री अशोक चौधरी के कार्यक्रम में शामिल होना कई मायनों में अहम माना जा रहा है.

गौरतलब है कि दो दिन पहले ही बहुजन समाज पार्टी के इकलौते विधायक जमा खान जेडीयू में शामिल हो गए थे. उन्हीं के साथ निर्दलीय विधायक सुमित सिंह ने भी जेडीयू की सदस्यता ग्रहण कर ली थी. ऐसे में संभावना यही जताई जा रही है कि आने वाले कुछ दिनों में सीएम नीतीश, चिराग को झटका दे सकते हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें