scorecardresearch
 

JDU ने चुनाव हारने वालों को लगाया जिले में, पूर्व सांसद और पूर्व मंत्रियों को सौंप दी ये जिम्मेदारी

बिहार चुनाव 2020 में आये परिणामों की जेडीयू ने समीक्षा शुरू कर दी है. इस चुनाव में खराब प्रदर्शन करने वाले नेताओं को अब जमीनी स्तर से जोड़ा जा रहा है. फिर चाहे वो पूर्व मंत्री हो, पूर्व सांसद या फिर विधायक सभी को जिले की व्यवस्था संभालने की जिम्मेदारी दी जा रही है. 

नीतीश कुमार और आरसीपी सिंह  नीतीश कुमार और आरसीपी सिंह 
स्टोरी हाइलाइट्स
  • चुनाव हारने वाले पूर्व मंत्री, पूर्व एमपी संभालेंगे जिला 
  • राष्ट्रीय अध्यक्ष ने किया संगठन में बड़ा बदलाव  

बिहार चुनाव के बाद जेडीयू में बदलाव की बयार शुरू हो चुकी है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के करीबी और सांसद आरसीपी सिंह को पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया है. वहीं नये राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में कमान संभालने के बाद आरसीपी सिंह ने संगठन में बड़े स्तर पर बदलाव शुरू कर दिया है. 

संगठन को मजबूत बनाने और नेताओं को जमीनी स्तर से जोड़ने के लिए पार्टी अध्यक्ष के​ निर्देशों पर सभी जिलाध्यक्षों को बदल दिया गया है. पार्टी अध्यक्ष ने अब सभी जिलों की जिम्मेदारी चुनाव हारने वाले मंत्री और विधायकों को सौंप दी है. आरसीपी सिंह ने पूर्व मंत्री संतोष निराला और पूर्व विधायक राहुल शर्मा जैसे कद्दावर नेताओं को भी अब जिला अध्यक्ष बना दिया है.

देखें -आजतक LIVE TV  

नये जिलाध्यक्षों की सूची हुई जारी 
जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा किये गये इस बड़े फेरबदल से पार्टी नेताओं में हलचल मची हुई है. प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा ने सभी जिलाध्यक्षों की सूची जारी कर दी है. इस सूची को देखा जाये, तो कई ऐसे नाम शामिल हैं, जिन्हें चुनाव में करारी शिकस्त मिली थी. 

ये भी पढ़ें- 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें