scorecardresearch
 

मोदी मंत्रिमंडल में जगह न मिलने से JDU नेता दुखी! बोले- BJP ने लालू को तंज कसने का मौका दिया

जेडीयू नेता ने कहा कि हमारे नेताओं को मंत्रिमंडल में जगह ना मिलने से निराशा नहीं बल्कि अफसोस है क्योंकि इससे विरोधियों को तंज करने का मौका मिला है, जो कि ठीक नहीं है. त्यागी ने कहा कि वैसे तो यह मंत्रिमंडल विस्तार बीजेपी के लोगों का था, इसमें  कुछ को हटाया गया कुछ को शामिल किया गया, लेकिन हमारी पार्टी को न्योता नहीं दिया गया.

जेडीयू को नहीं मिली कैबिनेट में जगह जेडीयू को नहीं मिली कैबिनेट में जगह

मोदी सरकार के कैबिनेट विस्तार में जेडीयू को जगह ना मिलने पर पार्टी का दर्द सामने आ गया है. जेडीयू सांसद और प्रवक्ता केसी त्यागी ने 'आजतक' के बातचीत में कहा कि मंत्रिमंडल में शामिल ना किए जाने से हम लोग निराश नहीं है, लेकिन हमें उम्मीद थी कि जिस ढंग से बिहार में बीजेपी और जेडीयू मिलकर सरकार चला रहे हैं, उसी तरीके से केंद्र में भी जेडीयू के लोगों को शामिल किया जाएगा.

जेडीयू नेता ने कहा कि हमारे नेताओं को मंत्रिमंडल में जगह ना मिलने से निराशा नहीं बल्कि अफसोस है क्योंकि इससे विरोधियों को तंज करने का मौका मिला है, जो कि ठीक नहीं है. त्यागी ने कहा कि वैसे तो यह मंत्रिमंडल विस्तार बीजेपी के लोगों का था, इसमें  कुछ को हटाया गया कुछ को शामिल किया गया, लेकिन हमारी पार्टी को न्योता नहीं दिया गया.

राज्य सभा सांसद केसी त्यागी ने कहा कि हमें कैबिनेट विस्तार में जगह क्यों नहीं दी गई इसका जवाब तो बीजेपी नेता ही दे सकते हैं. उन्होंने कहा कि आगे होने वाले मंत्रिमंडल में उम्मीद करते हैं बीजेपी इस बात का ध्यान रखेगी और बिहार की तर्ज पर केंद्र में भी जेडीयू को अपना सहयोगी बनाएगी. त्यागी का कहना है कि कि जिस लालू को हम भ्रष्टाचार के मुद्दे पर रिजेक्ट कर के आए थे, वही लालू यादव हम लोगों पर तंज कर रहे हैं हमारे ऊपर सवाल उठा रहा है. बीजेपी की वजह से लालू को यह मौका मिला जो नहीं होना चाहिए था. बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने भी मीडिया पर निशाना साधते हुए कहा कि कैबिनेट में शामिल होने के मुद्दे को मीडिया ने ज्यादा उछाला जबकि ऐसी कोई चर्चा हुई ही नहीं थी.

वहीं जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार ने कहा कि मंत्रिमंडल विस्तार पर कोई बातचीत ही नहीं हुई थी. मत्रिमंडल में  अकारण जेडीयू को मीडिया ने शामिल किया. आपके डार्लिंग (लालू) को मौका मिल गया. आजकल मीडिया ही माध्यम है. लालू पर बोलत हुए नीतीश ने कहा कि उनके द्वारा अपमानजनक और कटु शब्दों का प्रयोग हो रहा है.

आपको बता दें कि बिहार में जेडीयू और बीजेपी गठबंधन के बाद मोदी सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार जेडीयू के दो नेताओं को जगह देने के कयास लगाए जा रहे थे, जिनमें एक को कैबिनेट और एक को राज्य मंत्री का दर्जा देने की अटकलें थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें