scorecardresearch
 

गरीबों को परेशान करने वाले डॉक्टर के हाथ काट दिए जाएंगे: जीतन राम मांझी

नीतीश कुमार के 'रबर स्टाम्प' मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी अपने काम से ज्यादा अपने बेतुके बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं. जब से उन्हें बिहार के मुख्यमंत्री पद की कुर्सी मिली है उस दिन से ही जीतन राम कोई ना कोई बेतुका और विवादास्पद बयान देकर विवादों में फंस जाते हैं.

बिहार के CM जीतनराम मांझी बिहार के CM जीतनराम मांझी

नीतीश कुमार के 'रबर स्टाम्प' मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी अपने काम से ज्यादा अपने बेतुके बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं. जब से उन्हें बिहार के मुख्यमंत्री पद की कुर्सी मिली है उस दिन से ही जीतन राम कोई ना कोई बेतुका और विवादास्पद बयान देकर विवादों में फंस जाते हैं.

ताजा मामला बिहार के मोतिहारी का है जहां जीतन राम एक सभा को संबोधित कर रहे थे. इस बार जीतन राम के निशाने पर प्रदेश के डॉक्टर थे. मांझी ने डॉक्टरों को निशाने पर लेते हुए कहा कि जो भी डॉक्टर गरीबों के इलाज में कोताही बरतेगा उसका हाथ काट दिया जाएगा.

जीतन राम ने कहा, 'इस प्रदेश के लोगों को दवा के लिए कोई दिक्कत नहीं होगी. जब मैंने पटना में हो रहे दवा घोटाले का पता लगाया तो कितने अधिकारियों को घर बैठा दिया. जब पीएमसीएच में गड़बड़ी हुई तो कितने लोगों को मैंने घर बैठा दिया. जीतनराम गरीबों का परिवार है और जो भी गरीबों के साथ खिलवाड़ करेगा जीतनराम उसका हाथ काट देगा.'

गौरतलब है कि इससे पहले भी जीतन राम कई बेतुके बयान दे चुके हैं. हाल ही में उन्होंने अपने एक बयान में शराब पीने की वकालत की थी तो वहीं जब जीतनराम के बेटे पर सेक्स स्कैंडल में शामिल होने का आरोप लगा था तब भी जीतन राम ने एक बयान में कहा था कि ‘किसी की भी गर्लफ्रेंड हो सकती है.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें