scorecardresearch
 

बिहार और असम में बाढ़ का जानलेवा तांडव जारी, अबतक 200 से ज्यादा की मौत

बिहार, यूपी, मध्यप्रदेश, हिमाचल, जम्मू-कश्मीर समेत कई राज्यों में लगातार हो रही मूसलाधार बारिश के बाद बाढ़ से हालात खराब हैं. बिहार के 12 जिलों में बाढ़ ने तबाही मचाई हुई है. अब तक 123 लोगों की मौत हो चुकी है.

बिहार के 12 जिलों में बाढ़ ने तबाही मचाई हुई है (फाइल फोटो-IANS) बिहार के 12 जिलों में बाढ़ ने तबाही मचाई हुई है (फाइल फोटो-IANS)

बिहार, यूपी, मध्यप्रदेश, हिमाचल, जम्मू-कश्मीर समेत कई राज्यों में लगातार हो रही मूसलाधार बारिश के बाद बाढ़ से हालात खराब हैं. बिहार के 12 जिलों में बाढ़ ने तबाही मचाई हुई है. अब तक 123 लोगों की मौत हो चुकी है. बाढ़ के कारण 85 लाख लोगों ने घर-बार छोड़ दिया है. असम के 20 जिलों में तीन हजार से ज्यादा गांव और 38 लाख से ज्यादा आबादी बाढ़ की मार झेल रही है. असम में अब तक मरने वालों की संख्या 77 के पार जा चुकी है.

बाढ़ की भीषण चपेट में बिहार का दरभंगा जिला है. दरभंगा पर एक साथ तीन नदियों कमला, कोसी और बागमती ने तबाही मचाई है. अबतक 13 प्रखंड की 145 पंचायतें बाढ़ की चपेट में आ चुकी हैं और साढ़े तीन लाख लोगों की जिंदगी दरबदर हुई है. इस बाढ़ की चपेट में आकर दरभंगा के 10 लोगों ने अपनी जान गंवा दी है. बाढ़ से मरने वाले लोगों में सबसे ज्यादा सीतामढ़ी के 37 लोग है. मधुबनी में 30, अररिया में 12, शिवहर में 10, पूर्णिया में 9, किशनगंज में 5, मुजफ्फरपुर में 4, सुपौल में 3 और पूर्वी चंपारण में 2 लोगों की मौत हुई है.

बाढ़ के साथ ही बिजली गिरने से 43 लोगों की मौत

लगातार हो रही बारिश से शिवहर में बागमती नदी में उफान के कारण इलाके में 72 घंटे का अलर्ट जारी किया गया है. बिहार में एक तरफ जमीन पर पानी मार रहा है तो आसमान से बिजली. बिहार के अंदर पिछले 24 घंटों में बिजली गिरने से 43 लोगों की मौत हुई है, तो बाढ़ से 17 लोगों की मौत हुई है. सबसे ज़्यादा बिजली गिरने से जमुई ज़िले में 8 लोग मारे गए हैं. भागलपुर, बांका, पूर्वी चंपारण जिलों में 4-4 मौते हुई हैं.

असम के 20 जिलों में बाढ़, 38 लाख आबादी प्रभावित

बिहार के अलावा असम सबसे ज्यादा बाढ़ की तबाही का शिकार है. बीते दो हफ्ते से असम में कुदरत का कहर जारी है. इस वक्त भी 20 जिले में तीन हजार से ज्यादा गांव और 38 लाख से ज्यादा आबादी इसकी मार झेल रही है. असम में अब तक मरने वालों की संख्या 77 के पार जा चुकी है. असम में ब्रह्मपुत्र नदी ने तबाही मचाई हुई है. असम के अलावा उत्तर प्रदेश के कई इलाके भी बाढ़ की चपेट में है.

उत्तराखंड और जम्मू-कश्मीर में भी बाढ़ का खतरा

उत्तराखंड में लगातार हो रही बारिश के कारण भूस्खलन की घटनाओं में इजाफा हुआ है. उत्तराखंड में ही केदारनाथ हाइवे पर पहाड़ दरकने से बुधवार रात से ही आवाजाही ठप है. चमोली में भी हाईवे को लैंड स्लाइड की वजह से बंद करना पड़ा. इसके कारण बद्रीनाथ जाने वाले श्रद्धालुओं को परेशानी उठानी पड़ रही है. उत्तराखंड के अलावा जम्मू-कश्मीर में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है. भारी बारिश से चिनाब नदी उफान पर है और नीचले इलाके में बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें