scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: बीबीसी ने बीजेपी को कभी नहीं कहा सबसे भ्रष्ट पार्टी

पोस्ट में दावा किया गया कि बीबीसी ने 2017 में एक सर्वे किया और दुनिया की 10 सबसे भ्रष्ट पार्टियों का चुनाव किया है. इस सर्वे में बीजेपी को टॉप पर दिखाया गया है. इसके बाद दूसरे नंबर पर युगांडा की नेशनल रेजिसटेंट मूवमेंट का नंबर आता है.

सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीर

चुनावी मौसम में सोशल मीडिया पर लोग राजनीतिक पोस्ट खूब पसंद किए जाते हैं, लेकिन ये खतरनाक भी हो सकते हैं अगर इनमें गलत जानकारी दी जा रही हो. फेसबुक पेज ‘ वी द्रविड़यन’ पर एक पोस्ट किया गया जिसमें दावा है कि बीबीसी ने अपने सर्वे में बीजेपी को दुनिया की सबसे भ्रष्ट पार्टी कहा है.

इंडिया टुडे एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने अपनी पड़ताल में इस दावे को झूठा पाया. ब्रिटिश ब्रॉडकास्टिंग कॉरपोरेशन यानी (BBC) ने न कोई डाटा जारी किया न ही कोई सर्वे कराया है.

पोस्ट में दावा किया गया कि बीबीसी ने 2017 में एक सर्वे किया और दुनिया की 10 सबसे भ्रष्ट पार्टियों का चुनाव किया है. इस सर्वे में बीजेपी को टॉप पर दिखाया गया है. इसके बाद दूसरे नंबर पर युगांडा की नेशनल रेजिसटेंट मूवमेंट का नंबर आता है. इस पोस्ट के साथ बीबीसी के ब्लैक एंड व्हाइट लोगो का इस्तेमाल किया गया है. खबर लिखे जाने तक 100 से ज्यादा लोगों ने इस पोस्ट को शेयर किया है.

रिवर्स इमेज सर्च के जरिए हमें पता चला कि ये तस्वीर 2017 से ही उपलब्ध है. इसी तस्वीर को दूसरी पार्टियों के नाम लेकर भी पोस्ट किया गया है और कई बार रैंकिंग में भी उलटफेर की गई है.

mos_042419031703.jpg

इंडिया टुडे की  AFWA टीम ने इससे पहले भी केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के दावे का पर्दाफाश किया था, जिसमें उन्होंने कांग्रेस को दुनिया की दूसरी सबसे भ्रष्ट पार्टी ठहराया था.

उन्होंने ये  दावा  ‘bbcnewshub.com’ नाम के एक वेबसाइट में छपे लेख के आधार पर किया था. इस वेबसाइट का बीबीसी से कोई लेना देना नहीं है.  बीबीसी की वेबसाइट www.bbc.com है.

हमने इसकी भी पड़ताल की क्या कभी बीबीसी ने भ्रष्ट पार्टियों पर कोई सर्वे किया तो हमें दो लेख मिले. उनमें से एक ये है और दूसरा यहां है.

दोनों लेख में दुनिया के टॉप 10 भ्रष्ट पार्टियों का कोई जिक्र नहीं है.

2017 में बीबीसी के साथ काम करने वालीं वरिष्ठ पत्रकार और संपादक गीता पांडे ने ट्वीट कर ऐसे किसी सर्वे से इनकार कर दिया था.

उन्होंने उसमें वेबसाइट पोस्ट कार्ड के लेख का भी जिक्र किया था, जिसका आर्काइव आप यहां देख सकते हैं.

पोस्ट कार्ड  वेबसाइट ने एक लेख लिखा था जिसका आधार बीबीसी न्यूज पॉइन्ट था, जिसमें डाटा का स्त्रोत नहीं बताया गया था. बीबीसी न्यूज पॉइन्ट की वेबसाइट में साफ तौर पर लिखा था कि विभिन्न स्त्रोतों से इक्ट्ठा कि गई जानकारी की वो गारंटी नहीं लेते.

fact_042419032538.jpg

एक बात और वायरल पोस्ट के साथ बीबीसी के फ़ॉन्ट और लिखने का तरीका भी मेल नहीं खाता, इसलिए साफतौर पर कहा जा सकता है कि ये फेक न्यूज है.

फैक्ट चेक

फेसबुक पेज ‘We Dravidians’

दावा

बीबीसी के सर्वे में बीजेपी दुनिया की भ्रष्टतम पार्टी चुनी गई.

निष्कर्ष

बीबीसी ने कभी ऐसा कोई सर्वे नहीं कराया.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
फेसबुक पेज ‘We Dravidians’
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×