scorecardresearch
 

क्या 84 के दंगों के लिए राहुल- प्रियंका को माफी मांगनी चाहिए? सीएम चन्नी ने ये दिया जवाब

एजेंडा आजतक 2021 में मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा कि पंजाब को आगे बढ़ाने के लिए पूरा काम कर रहा हूं. मैं अपना पूरा समय इसमें दे रहा हूं. बचपन से आज तक जो भी सीखा है सब इसी में दे रहा हूं. एक गरीब आदमी कैसे संघर्ष कर जीवन बिताता है मैं जानता हूं और मैं उसकी समस्याओं को हल कर रहा हूं.

X
पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मैं कप्तान नहीं, सिर्फ प्लेयर हूं- चन्नी
  • 'मैंने गृह मंत्री से मिलकर दो बातें की थीं'

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने एजेंडा आजतक 2021 (Agenda Aajtak21) में शिरकत की. चन्नी ने हर सवाल का बेबाकी से जवाब दिया. सबसे पहले उन्होंने सीएम कैसे बने इस बारे में बताया. उन्होंने कहा कि मैं चंडीगढ़ पहुंचा तो राहुल जी ने कहा कि आप सीएम बनोगे तो मैं रोने लगा. फिर उन्होने कहा कि मै सोचकर कह रहा हूं आप ही सीएम बनोगे.

चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा, 'मैं पंजाब को आगे बढ़ान के लिए पूरा काम कर रहा हूं. मैं अपना पूरा समय इसमें दे रहा हूं. बचपन से आज तक जो सीखा है इसी में दे रहा हूं. एक गरीब आदमी कैसे संघर्ष कर जीवन बिताता है ये मैं जानता हूं और मैं उसकी समस्याओं को हल कर रहा हूं. एक गरीब आदमी के घर में बिजली का बिल देने के बाद पैसे नहीं बचता, उस पर काम कर रहा हूं, किसान के लिए डीजल का दाम कम कर रहा हूं. आम आदमी का मसला हल कर रहा हूं. मैं उन लोगों को दे रहा हूं जिन्हें जरूरत है.'

उन्होंने कहा कि परिवर्तन हो गया है पंजाब में. ये सब राहुल गांधी जी ने किया. राहुल जी ऐसे आदमी हैं जो जिन्हें कुछ नहीं मिला है उसे सबकुछ दे रहे हैं. ये गुरु गोविंद सिंह जी ने कहा था. कांग्रेस आज उसी तर्ज पर काम कर रही है. क्या 84 के दंगों के लिए राहुल-प्रियंका को माफी मांगनी चाहिए? इस सवाल के जवाब में चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा कि राहुल गांधी और उनके परिवार ने इस पर कई बार माफी मांगी है.

क्या कहा नवजोत सिंह सिद्धू के बारे में?

सीएम चन्नी ने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू हमारे अध्यक्ष हैं.अध्यक्ष को पार्टी की लाइन पर काम करना होता है. जब पार्टी अध्यक्ष कुछ कहते हैं, तो हम उस लाइन पर काम करते हैं. जब कुछ रह जाता है, तो वे फिर कहते हैं, हम फिर उस पर काम करने में जुट जाते हैं. ये आलोचना काफी जरूरी है. कोई भी लोग राजनीति में आया है, उसकी सोच होती है, आगे बढ़ने की. सीएम से लेकर पीएम बनने की. अगर आपमें सोच नहीं है, तो काम नहीं कर पाएंगे. अगर नवजोत सिंह सिद्धू की सीएम बनने की सोच है, तो उसमें क्या बुरा है. चुनाव में जनता, पार्टी आलाकमान और विधायक तय करेंगे कि कौन सीएम बनेगा. 

क्या आप चुनाव का नाइट वॉचमैन बने हैं?

चन्नी से जब पूछा गया कि क्या आने वाले चुनाव में भी वो पंजाब के कप्तान हैं या नाइट वॉचमैन बने हैं. इस सवाल पर उन्होंने कहा कि ये टीम वर्क है. मैं कप्तान नहीं हूं. सिर्फ प्लेयर हूं. चुनाव में हम सबको मेहनत करनी है. चुनाव पार्टी लड़ती है. पार्टी चुनाव जीतती है. जीत के बाद पार्टी तय करती है कि कौन सीएम बनेगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें