scorecardresearch
 

एजेंडा आजतक: राज्यवर्धन राठौड़ ने बताए राजस्थान चुनाव में हार के कारण

राजस्थान विधानसभा चुनाव में मिली हार पर केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कहा कि वसुंधरा ने राज्य के विकास के लिए बहुत काम किया, लेकिन हम अपने काम को गिना नहीं पाए. साथ ही कुछ सीटों पर विधायकों का टिकट काट देते तो चुनाव जीत जाते.

एजेंडा आजतक के मंच पर केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ (फोटो-aajtak) एजेंडा आजतक के मंच पर केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ (फोटो-aajtak)

आजतक के खास कार्यक्रम 'एजेंडा आजतक' में केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने राजस्थान विधानसभा चुनाव में मिली हार पर बेबाकी से अपनी बात रखी. उन्होंने कहा कि हम अपने तीन बार से लगातार विधायकों का टिकट नहीं काट पाए. यही हार का अहम कारण बना. अगर हम उन सीटों पर नए प्रत्याशी उतारते तो 85 सीटों पर जीत हासिल कर सकते थे और सरकार भी बना लेते.

उन्होंने कहा कि वसुंधरा राजे ने जिस विजन से काम किया, वह शायद ही कोई कर पाएगा. हम अपने कामों को जनता तक पहुंचा नहीं पाए. चुनाव के आखिरी एक महीने में हम अपने कामों को गिनाने में कामयाब रहे और हमारा ग्राफ चढ़ा.

खुद को राजस्थान में चेहरा बनाए जाने के सवाल को टालते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हमने पारदर्शिता और निर्णायक तरीके से काम किया. हर ग्राम पंचायत के अंदर आपको केंद्र सरकार का लाभार्थी मिल जाएगा. अधिकारी वही हैं, लेकिन साढ़े चार साल में काम करने का तरीका बदला. खेत में मजदूरी करने वाला किसान हो या फिर आम नागरिक. हर मतदाता चाहता है कि प्रधानमंत्री के अंदर मेरी छवि दिखाई दे. उसमें हमें 100 नंबर मिल रहे हैं.

किसानों के आंदोलन के सवाल पर राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कहा कि इन आंदोलन के पीछे कौन था. यह हर कोई जानता है. किसानों को भड़काना आसान है. हमारी सरकार ने किसानों के लिए बहुत काम किया. एमएसपी बढ़ाया गया. इसका फायदा किसानों को मिल रहा है. युवाओं के लिए भी हमारी सरकार काम कर रही है. 2019 का चुनाव हम जीतेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें