scorecardresearch
 

#Safaigiri16: कैलाश खेर ने दिल्ली को बताया 'जुगाड़ नगरी'

स्वच्छता पर इंडिया टुडे ग्रुप लगातार दूसरे साल सफाईगीरी अवॉर्ड्स का आयोजन कर रहा है. 2 अक्टूबर को स्वच्छता से जुड़े इस कार्यक्रम में कुल 14 श्रेणियों में सफाईगीरी अवॉर्ड्स दिए जा रहे हैं.

कैलाश खेर कैलाश खेर

इंडिया टुडे ग्रुप द्वारा आयोजित सफाई‍गीरी अवॉर्ड्स में जाने-माने सूफी सिंगर कैलाश खेर ने न सिर्फ अपने चुनिंदा गानों से समां बांधा, बल्कि सफाई को लेकर अपने निजी अनुभव भी साझा किए. कैलाश खेर ने छोटे-छोटे किस्से सुनाकर बताया कि रास्ते में कचरा फैलाने वाले लोग कैसे अपनी आदतें बदलते हैं.

कैलाश खेर ने भारत के बारे में बताया कि भगवान ने इसे बहुत सुंदर देश बनाया है. यहां गहरी बातें ज्यादातर अंग्रेजी में बोली जाती है यहां लोकल बात में 'लो कल्ल लो बात' हो जाती है.

कैलाश ने स्वच्छ भारत पर एक गाना गाया. कैलाश खेर ने 'मंगल-मंगल' गाना गाते हुए समां बांध दिया. मुंबई पुलिस के एक सिपाई को भी कैलाश ने सफाई के गुण सीखा डाले और सड़क पर थूकने पर उन्हें टोक दिया. कैलाश ने विदेश टूर के भी किस्से शेयर किए. कैलाश ने वहां कि सफाई के बारे में बताते हुए कहा कि विदेश के टॉयलेट ऐसे होते हैं जैसे डिनर यही परोसा जाएगा. 

बेहतरीन सफाई की कैटेगरी में दिए जाने वाले अवॉर्ड के लिए कैलाश खेर ने विजेता के रूप में बंगलुरु के इंजिनियर राजेश पाई के नाम की घोषणा की. इसके साथ ही रविकृष्ण रेड्डी वॉटर वॉरियर कैटेगरी में को विजेता घोषित किया गया.

कैलाश खेर दिल्ली से ही हैं. कैलाश ने दिल्ली को 'जुगाड़ों का शहर' बताया. अपने दिल्ली से मुंबई के सफर के बारे में बात करके हुए बताया कि वह 30 साल की उम्र में मुंबई गए थे और उन्होंने कोई अवसर हाथ से जाने नहीं दिया.

कैलाश खेर ने 'तेरी दीवानी....' और 'बम लहरी गाकर वहां मौजूद लोगों को खूब नचाया अौर महफिल में रंग जमाया. कैलाश ने जाते-जाते कहा- न गंदगी फैलाएं न फैलाने दें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें