scorecardresearch
 

जाट आरक्षण पर बोले रणदीप हुड्डा, 'बावले होन की जरूरत ना है'

हरियाणा में जाट आरक्षण को लेकर हो रही हिंसा से आहत जाट परिवार से संबंधित फिल्म अभिनेता रणदीप हुड्डा ने अपने भाइयों से शांति बनाए रखने की अपील की है.

रणदीप हुड्डा रणदीप हुड्डा

हरियाणा में नौकरियों और शैक्षिक संस्थानों में जाटों के आरक्षण मांगने का मसला गहराता जा रहा है. हाल ही में कई जगह कर्फ्यू की स्थिति भी बनी रही.

पिछले तीन दिनों में इन प्रदर्शनों ने हरियाणा के कई शहरों में उग्र रूप भी धारण किया जब जाटों ने जगह-जगह पब्लिक और प्राइवेट वाहनों में आग लगा दी. यही नहीं, कई दुकानें और शॉपिंग मॉल्स भी इस आग की चपेट में आ गए.

फिलहाल रोहतक सबसे ज्यादा नुक्सान की चपेट में है. इसी बीच बॉलीवुड एक्टर रणदीप हुड्डा ने ट्विटर के जरिए इन खबरों पर अपनी प्रतिक्रिया जताई है. रणदीप खुद भी रोहतक शहर से ही हैं और उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए ठेठ हरियाणवी भाषा में लोगों से विनती की है कि वो शांति बनाए रखें.

ट्विटर पर रणदीप ने लिखा , 'राम राम गाम आलों. इब पूरे देश नै सुन ली. बस बंद करो तोड़ फोड़. इब बातचीत तै शांती तै आगे बढ़ो अर अपणी मांग रक्खो. बावले होन की जरूरत ना है. हनुमान आली ना करो. बातचीत से हल निकलेगा. मुददा राजनैतिक ना बनने दो. शांती रखो. अपने ही घर में आग ना लगाओ. #जातकोतस्तीर'.

रणदीप ने सलाह दी है कि प्रदर्शनकारियों को बातचीत से हल निकालने की कोशिश करनी चाहिए. उन्हें अपनी मांगें शांतिपूर्ण तरीके से सामने रखनी चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें