scorecardresearch
 

Film Review: परिणिति के कंधों पर 'हंसी तो फंसी'

ऐसा बॉलीवुड में बहुत कम होता है कि दो अलग-अलग जॉनर के लोग एक साथ मिलें. लेकिन 'हंसी तो फंसी' के साथ बॉलीवुड में आया यह बदलाव नजर आने लगा है.

'हंसी तो फंसी' का पोस्‍टर 'हंसी तो फंसी' का पोस्‍टर

फिल्‍म: हंसी तो फंसी
स्टार: ***(3)
कलाकार: परिणिति चोपड़ा, सिद्धार्थ मल्होत्रा, टीनू आनंद, मनोज जोशी और शरत सक्सेना
डायरेक्टर: विनिल मैथ्यू
बजट: 25 करोड़ रु.

ऐसा बॉलीवुड में बहुत कम होता है कि दो अलग-अलग जॉनर के लोग एक साथ मिलें. लेकिन 'हंसी तो फंसी' के साथ बॉलीवुड में आया यह बदलाव नजर आने लगा है. अनुराग कश्यप और करन जौहर ने मिलकर 'हंसी तो फंसी' को प्रोड्यूस किया है. फिल्म को लेकर अनोखेपन की बड़ी उम्मीदें थीं, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. इतना जरूर कह सकते हैं कि फिल्म स्वस्थ मनोरंजन के साथ दस्तक देती है. युवा तेवर लिए फिल्म में कॉमेडी और रोमांस के जबरदस्त फंडे पिरोए गए हैं और मजाक कहीं भी फूहड़ नहीं होता, लेकिन फिल्म की जान परिणिति चोपड़ा हैं. परिणिति ने सिद्ध कर दिया है कि वे बॉलीवुड में लंबी पारी खेलने आई हैं.

कहानी में कितना दम
शादी का माहौल है. युवा और ताजा चेहरे हैं. पंजाबी स्टाइल के गाने हैं. एक बहन (अदा शर्मा) की शादी हो रही है. सात साल पहले घर छोड़कर भागी दूसरी बहन (परिणिति) भी घर में आ टपकती है. लूजर टाइप के लड़के (सिद्धार्थ) के आगे अदा ने सुखद भविष्य के लिए पांच करोड़ रु. कमाने की शर्त रखी है. भरा-पूरा परिवार और शादी के लटके-झटके. फिर इस सब के बीच बन जाता है प्रेम त्रिकोण. कहानी में कई मोड़ आते हैं. कहानी में नयापन नहीं है. इस तरह की कई कहानियां देखी गई हैं लेकिन फिल्म में युवा तेवरों को बेहतरीन ढंग से पिरोकर इसमें ताजगी डालने का काम किया है. हालांकि डायरेक्शन कुछ सुस्त है और ऐसा लगता है कि यह विनिल की पहली फिल्म है. लेकिन इसे स्वस्थ मनोरंजन की एक अच्छी कोशिश कही जा सकती है.

स्टार अपील
सिद्धार्थ मल्होत्रा ने निखिल के तौर अच्छी ऐक्टिंग की है लेकिन कहीं भी कमाल नहीं लगते हैं. उन्होंने अपने किरदार को बखूबी निभाने की कोशिश की है. अदा शर्मा की इसे अच्छी कमबैक कह सकते हैं लेकिन उनके पास करने के लिए कुछ ज्यादा है नहीं. फिल्म की जान हैं तो परिणिति चोपड़ा. वे अपनी ऐक्टिंग से फिल्म के बाकी सितारों पर भारी पड़ती हैं. उनका बबली अंदाज वाकई मजेदार लगता है और उनकी टाइमिंग कमाल की है. लेकिन अब इस तरह के बबली रोल्स के अलावा भी उन्हें अपने हाथ दिखाने चाहिए, क्योंकि वे टैलेंट का खजाना हैं.

कमाई की बात
फिल्म की स्टार कास्ट एकदम नई है. सिद्धार्थ की यह दूसरी फिल्म है जबकि परिणिति की चौथी. सिद्धार्थ जहां लड़कियों में काफी पॉपुलर हैं तो वहीं परिणिति भी अपनी ऐक्टिंग और मुस्कान से बड़ी फैन फॉलोइंग तैयार कर चुकी हैं. परिणिति की ऐक्टिंग और प्रेम त्रिकोण की वजह से फिल्म वन टाइम वॉच तो है ही. फिल्म यूथ पॉपुलेशन को देखकर बनाई गई है, और अगर यूथ इससे कनेक्ट करता है तो फिल्म बॉक्स ऑफिस पर अच्छा कर सकती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें