scorecardresearch
 

बिहार में यादव vs राजपूत! पवन सिंह के इशारों पर खेसारी को किया गया टारगेट?

इस पूरे मामले को जातिगत साजिश बताते हुए खेसारी कहते हैं- यह लड़ाई जाति को लेकर ही है. राजपूत जाति के लोग हैं, जो मुझे हमेशा नीचा दिखाते हैं. पर मैं तो एक कलाकार हूं. मेरे लिए हर जाति और समुदाय के लोग अपने हैं. मैं सबसे प्यार करता हूं.

X
पवन सिंह, खेसारी लाल यादव पवन सिंह, खेसारी लाल यादव
स्टोरी हाइलाइट्स
  • खेसारी ने की विवाद पर बात
  • पवन-खेसारी हैं दुश्मन
  • जाति की वजह से होते हैं टारगेट

भोजपुरी सुपरस्टार खेसारी लाल यादव और पवन सिंह की लड़ाई अलग लेवल पर पहुंच गई है. पवन सिंह के एक फैन ने खेसारी को धमकाया और गालियां दी थीं, जिसके बारे में खुद एक्टर ने सोशल मीडिया पर वीडियो शेयर कर बताया था. अब आजतक से बातचीत में खेसारी लाल यादव ने कहा कि जाति के आधार पर उन्हें टारगेट किया गया है. खेसारी ने कहा अगर उनका काम पसंद नहीं है तो वैसा ही काम करने वाले दूसरे लोगों के प्रति आपत्ति क्यों नहीं जताई जाती है. 

जाति को लेकर टारगेट किया जाता है
इस पूरे मामले को जातिगत साजिश बताते हुए खेसारी कहते हैं- यह लड़ाई जाति को लेकर ही है. राजपूत जाति के लोग हैं, जो मुझे हमेशा नीचा दिखाते हैं. पर मैं तो एक कलाकार हूं. मेरे लिए हर जाति और समुदाय के लोग अपने हैं. मैं सबसे प्यार करता हूं, ऐसा थोड़ी है कि मैं यादव हूं, तो केवल यादव बिरादरी के लिए गाने लिखता हूं. हम कलाकारों की तो कोई जाति होती ही नहीं है. मैं यहां एंटरटेनमेंट की बात करता हूं. अगर आपको मेरी क्रिएटिविटी अश्लील लगती है, तो केवल खेसारी लाल यादव ही अश्लील काम कर रहा है.

Khesari Lal Yadav controversy: 'मेरे परिवार को कुछ हुआ तो जि‍म्मेदार होगी बिहार पुलिस', नाराज खेसारी लाल की CM नीतीश कुमार से गुहार

आपको बुरी लग रही हैं, चीजें तो सबके बारे में कहें न, क्यों खेसारी लाल को ही टारगेट किया जा रहा है. चलो मुझे टारगेट भी कर रहे हो, तो शब्दों का सही चयन करें न. आप मुझे पब्लिक डोमेन में गालियां दे रहे हैं और अब तो मेरे परिवार को रेप थ्रेट दे रहे हैं. यह कहां से सही है. देखिए मुझमें सहनशीलता बहुत है. मैं एक गरीब परिवार से आया हूं, जहां तक खाने तक की नौबत थी. मैंने वो सब दिन भी देखे हैं, इसलिए मेहनत करता हूं और अपने काम से मतलब रखता हूं. देखिए, ये लोग जो आज आकर बोल रहे हैं, ये पवन सिंह जी के फैन हैं. पवन इन्हें डांटते भी नहीं है.

Khesari Lal Yadav का दर्द: गाली सुनने को नहीं कमाई शोहरत, बेटी से बात करने की नहीं हो रही ह‍िम्मत 

गाली देने वाले लोग मेरे फैंस कहलाने के लायक नहीं हैं

भोजपुरी की कई एक्ट्रेसेज का आरोप है कि इन सुपरस्टार्स के फैंस उन्हें ट्रोल करते रहते हैं. इसकी सफाई में खेसारी कहते हैं, मैं सबके फैंस को यह कहना चाहता हूं कि भी महिला या पुरुष को यह हक नहीं मिला है कि वो सरेआम किसी को सोशल मीडिया पर गाली दे. अगर कोई देता भी है, उनके खिलाफ भी कार्रवाही हो. मैं किसी तरह की निगेटिव कमेंट्स का सपोर्ट नहीं करता हूं और फैंस को बढ़ावा नहीं देना चाहता हूं. मेरा यही कहना है कि गाली देना किसी भी समस्या का हल नहीं होता है. आप अपनी विचारधारा को सलीके से रखें. अगर मेरा कोई फैन गाली देता है तो वाकई में मेरा फैन कहलाने के लायक नहीं है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें