scorecardresearch
 

Uttarakhand Election Live Result 2022: हरीश रावत ने स्वीकार की हार, धामी बोले- यूनिफॉर्म सिविल कोड के लिए कमेटी बनाएंगे

उत्तराखंड में 70 विधानसभा सीटें हैं. इन सीटों पर 14 फरवरी को मतदान हुआ था. इंडिया टुडे-एक्सेस माय इंडिया के एग्जिट पोल के मुताबिक, उत्तराखंड में बीजेपी को 36-46 सीटें मिलने का अनुमान था. वहीं, कांग्रेस के खाते में 20-30 सीटें जाती दिख रही थीं.

X
70 सीटों वाले उत्तराखंड में 14 फरवरी को मतदान हुआ था. 70 सीटों वाले उत्तराखंड में 14 फरवरी को मतदान हुआ था.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • उत्तराखंड में विधानसभा की 70 सीटें
  • 2017 में बीजेपी को मिली थीं 57 सीटें
  • इस बार एग्जिट पोल में बीजेपी की वापसी का अनुमान

उत्तराखंड समेत 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव के नतीजे आ रहे हैं. बीजेपी आसानी से सत्ता में वापस आती दिख रही है. चुनाव आयोग के मुताबिक, कुल 70 में से 69 सीटों पर नतीजे आ गए हैं. बीजेपी अब तक 47 सीटों पर जीत हासिल कर चुकी है जबकि एक सीट पर आगे चल रही है. वहीं, कांग्रेस 18 सीटों पर जीत हासिल कर चुकी है इसके अलावा अन्य के खाते में 4 सीटें आई हैं. 

BJP सूत्रों का कहना है कि उत्तराखंड का मुख्यमंत्री विधायकों में से ही चुना जाएगा. मुख्यमंत्री पद की दौड़ में धन सिंह रावत और सतपाल महाराज का नाम सबसे आगे चल रहा है. बता दें कि राज्य में बीजेपी के पूर्व मुख्यमंत्री रहे नेता त्रिवेंद्र रावत और तीरथ सिंह रावत चुनाव लड़ने से पीछे हट गए थे और पुष्कर धामी चुनाव हार गए हैं. ऐसे में अब किसी नए नेता को ही मुख्यमंत्री बनने का मौका मिलेगा. 

इससे पहले हरीश रावत ने ट्वीट कर कहा, लालकुआं विधानसभा क्षेत्र से मेरी चुनावी पराजय की औपचारिक घोषणा ही बाकी है. मैं लालकुआं क्षेत्र के लोगों से क्षमा चाहता हूं कि मैं उनका विश्वास अर्जित नहीं कर पाया और जो चुनावी वादे उनसे मैंने किए. उनको पूरा करने का मैंने अवसर गवा दिया है. 

बीजेपी ने तोड़ा 20 साल पुराना ट्रेंड 
 उत्तराखंड में जनता हर 5 साल में सरकार से अपना मोह भंग कर देती है. यही वजह है कि यहां अभी तक 2002 में राज्य बनने के बाद से चार बार विधानसभा चुनाव हुए हैं. हर बार अलग सरकार बनी है. 2002 में यहां कांग्रेस ने सरकार बनाई थी. वहीं, 2007 में बीजेपी, 2012 में कांग्रेस और 2017 में बीजेपी ने सरकार बनाई. लेकिन अब तक के नतीजों में बीजेपी ये ट्रेंड तोड़ती नजर आ रही है. 

उत्तराखंड में बीजेपी ने चुनाव से पहले बदले 2 सीएम 

उत्तराखंड में बीजेपी ने चुनाव से पहले 1 साल में दो सीएम बदले. 2017 में त्रिवेंद्र सिंह रावत सीएम बने थे. 10 मार्च 2021 में उन्हें हटाकर तीरथ सिंह रावत को सीएम बनाया गया. 4 जुलाई 2021 को पुष्कर सिंह धामी तीरथ सिंह की जगह मुख्यमंत्री बनाया गया. पुष्कर सिंह खटीमा से विधायक हैं.

उत्तराखंड में 17% यानी 107 उम्मीदवार दागी 

उत्तराखंड में इस बार 632 उम्मीदवार मैदान में हैं. एडीआर ने इनमें से 626 उम्मीदवारों का विश्लेषण किया है. इनमें से 17% यानी 107 पर आपराधिक मामले दर्ज हैं. सबसे ज्यादा कांग्रेस ने 23 दागी उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है. वहीं, बीजेपी के 13, आप के 15, बीएसपी के 10 उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं.

2017 में कैसे थे नतीजे?

उत्तराखंड में बीजेपी ने 2017 में 70 में से 57 सीटों पर जीत हासिल की थी. वहीं, कांग्रेस को 11 सीटों पर जीत मिली थी. जबकि 2 सीटें निर्दलीय के खातों में गई थीं. इस बार आम आदमी पार्टी भी उत्तराखंड में पूरे दमखम के साथ चुनाव लड़ रही है.

क्या कह रहे एग्जिट पोल?

उत्तराखंड में 70 विधानसभा सीटें हैं. इन सीटों पर 14 फरवरी को मतदान हुआ था. इंडिया टुडे-एक्सेस माय इंडिया के एग्जिट पोल के मुताबिक, उत्तराखंड में बीजेपी को 36-46 सीटें मिलने का अनुमान है. वहीं, कांग्रेस के खाते में 20-30 सीटें जाती दिख रही हैं.  

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें