scorecardresearch
 

दिल्ली के ऑटो वालों से कॉल करके पूछ लो, तारीफ न करे तो वोट न देना, हरिद्वार में बोले केजरीवाल

उत्तराखंड चुनाव से पहले हरिद्वारा पहुंचे सीएम अरविंद केजरीवाल ने यहां ऑटोवालों से मुलाकात की. उन्होंने कहा- आपकी सभी समस्याओं की जिम्मेदारी मेरी है, सरकार बनाने की जिम्मेदारी आपकी है. हमारी सरकार बनती है, तो हम सबसे पहले सिस्टम बदलेंगे.

X
Arvind Kejriwal Arvind Kejriwal
स्टोरी हाइलाइट्स
  • हरिद्वार में ऑटो वालों से मिले केजरीवाल
  • 'दिल्ली में हमने पूरा सिस्टम ठीक किया'

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उत्तराखंड में एक जनसभा को संबोधित किया. 2022 में होने वाले उत्तराखंड विधानसभा चुनाव को लेकर केजरीवाल आज हरिद्वार पहुंचे थे. यहां उन्होंने ऑटो वालों के साथ बात चीत की. यहां उन्होंने कहा कि एक ऑटो वाला हर दिन कमाता खाता है, आज यहां आने के लिए सबने एक दो सवारी गंवाई होगी. दिल्ली के ऑटो वाले हमारे इतने मुरीद क्यों हैं? 7-8 साल पहले जब हमने राजनीति में कदम रखा था, तब ऑटो वालों से सम्पर्क हुआ. दिल्ली में हमारी सरकार बनी तो इसमें 70 फीसदी योगदान ऑटो वालों का है.

'दिल्ली में हमने पूरा सिस्टम ठीक किया'

केजरीवाल ने कहा- दिल्ली में उस वक्त ऑटो वालों को लोग नफरत की नज़र से देखते थे, माफिया कहते थे. जब मैंने ऑटो वालों से बात करनी शुरू की, तो कुछ लोगों ने कहा कि जनता आपके खिलाफ हो जाएगी. एक ऑटो वाला पुलिस, RTO सबको पैसे देता है. यहां कानून इतने मुश्किल हैं कि ईमानदारी से ऑटो वाला काम नहीं कर सकता. उन्होंने आगे कहा- मैंने रामलीला मैदान में ऑटो वालों की मीटिंग बुलाई थी, मैंने कहा कि अगर ये माफिया होते तो बड़ी बिल्डिंग में रहते. ये नहीं बल्कि राजनीतिक पार्टियां माफिया हैं. मैंने दिल्ली की जनता से अपील की थी कि एकबार जीता दो दिल्ली की पूरी जनता ऑटो वालों से प्यार करने लगेगी. हमने पूरा सिस्टम ठीक किया, किराया कमेटी बनाई, उसमें ज्यादातर ऑटो वाले थे, कुछ अफसर थे.

'मुझे तो कोई ऑटो वाला सीधे मैसेज कर सकता है'

मुख्यमंत्री ने कहा- आज दिल्ली के ऑटो वाले मुझे अपना भाई मानते हैं, भारत के इतिहास में शायद अकेला मुख्यमंत्री हूं जिसे ऑटो वाला सीधे मैसेज कर सकता है. ऑटो फिटनेस का चार्ज अब दिल्ली सरकार देती है. अब आपको RTO जाने की जरूरत नहीं है. फिटनेस छोड़कर सभी काम ऑनलाइन कर सकते हैं. कोरोना में सबकी दिहाड़ी खराब हुई, हमने पहली वेव में डेढ़ लाख ऑटो वालों के एकांउन्ट में 5-5 हजार जमा किए. दोबारा 1.80 लाख ऑटो वालों के एकांउन्ट में पैसे भेजे, 150 करोड़ रुपए उनके एकांउन्ट में भेजे, हम अकेली सरकार हैं जिसने ऐसा किया.

'दिल्ली के ऑटो वालों से कॉल करके पूछ लेना...'

केजरीवाल ने कहा- एयरपोर्ट से मैं सीधा यहां आया हूं आपसे बात करने, आज तक कोई मुख्यमंत्री ऑटो वालो से मिलने नहीं आया होगा. आज मैं आपसे रिश्ता बनाने आया हूं, गले लगाकर भाई बनाने आया हूं. आपकी सभी समस्याओं की जिम्मेदारी मेरी है, सरकार बनाने की जिम्मेदारी आपकी है. हमारी सरकार बनती है, तो हम सबसे पहले सिस्टम बदलेंगे. रिश्वत लेने और देने की जरूरत ना पड़े, सिस्टम को फेसलेस करेंगे, दिल्ली में हम यह करके आए हैं. दिल्ली के किसी ऑटो वाले को कॉल करना अगर वो तारीफ ना करे तो हमें वोट मत देना.

'आपके बच्चों का भविष्य बनाने की जिम्मेदारी मेरी'

सीएम केजरीवाल ने आगे कहा- हमने एक नम्बर जारी किया है, ऑनलाइन काम करना नहीं आता तो उसपर कॉल करो, वहां से आदमी आकर काम करके जाएगा. बीमारी में बेस्ट इलाज होगा. इंश्योरेंस से बड़ी चीज है कि दिल्ली के किसी भी नागरिक को कोई भी बीमारी हो 70 लाख का भी खर्च हो, दिल्ली सरकार वहन करती है. दिल्ली में अलग से पहले पार्किंग नहीं थी, अभी उनके लिए 500 स्टैंड बनाए हैं. कोरोना के दौरान आप लोगों को हुए नुकसान की भी भरपाई करेंगे. उन्होंने कहा- आपके बच्चों का भविष्य बनाने की जिम्मेदारी मेरी है. मैं चैलेंज करता हूं कि 70 साल के इतिहास ने किसी नेता ने नहीं कहा होगा कि वोट दो स्कूल बना दूंगा, मैं यह कह रहा हूं. आपका पूरा नेटवर्क होगा. उत्तराखंड में जितने भी ऑटो टैक्सी वाले हैं, टैक्सी के पीछे आम आदमी पार्टी का पोस्टर चिपकना चाहिए और फ्री में यह करना पड़ेगा. केजरीनाल ने कहा- 2020 में मैंने दिल्ली में कहा था कि काम नहीं किया हो तो वोट मत देना. आप यहां एक बार आम आदमी पार्टी को वोट देकर देखो, दूसरी पार्टियों को वोट देना भूल जाओगे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें