scorecardresearch
 

वाराणसी: मस्जिद के बाद अब कांग्रेस दफ्तर भी हुआ 'गुलाबी', नाराज कांग्रेसियों ने दिया अल्टीमेटम

हाल ही में वाराणसी में एक मस्जिद को गुलाबी रंग में रंगने पर विवाद हुआ था और अब कांग्रेस कार्यालय को रंगने पर विवाद शुरू हो गया है. वाराणसी विकास प्राधिकरण ने बनारस के मैदागिन चौराहे पर स्थित कांग्रेस के महानगर कार्यालय को गुलाबी रंग से पेंट कर दिया. इसके बाद विवाद शुरू हो गया.

X
गुलाबी रंग में रंगा गया कांग्रेस दफ्तर गुलाबी रंग में रंगा गया कांग्रेस दफ्तर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कांग्रेस दफ्तर को रंगने पर विवाद
  • VDA को 36 घंटे का अल्टीमेटम

वाराणसी में मस्जिद के बाद अब कांग्रेस कार्यालय को गुलाबी रंग में रंगे जाने को लेकर विवाद हो रहा है. दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 13 दिसंबर वाराणसी को दो दिवसीय आगमन और विश्वनाथ धाम के लोकार्पण के पहले विश्वनाथ मंदिर जाने वाले मार्गों की पेंटिंग कराई जा रही है. एकरूपता के संदेश के लिए गुलाबी रंग से पेंट कराया जा रहा है.

इसी कड़ी में वाराणसी विकास प्राधिकरण ने बनारस के मैदागिन चौराहे पर स्थित कांग्रेस के महानगर कार्यालय को गुलाबी रंग से पेंट कर दिया. इसके बाद विवाद शुरू हो गया. कांग्रेस पदाधिकारियों ने बकायदे चिट्ठी लिखकर वाराणसी विकास प्राधिकरण को पेंट हटाने का 36 घंटे का अल्टीमेटम दिया है, नहीं तो फिर कड़े विरोध की चेतावनी भी दी है.

मालूम हो कि अभी शहर के बुलानाला इलाके पर स्थित कर्णघंटा मस्जिद को भी वाराणसी विकास प्राधिकरण ने गुलाबी रंग करा दिया था, जिस पर मुस्लिम समुदाय और मस्जिद से जुड़े लोगों की आपत्ति के बाद बैकफुट पर आते हुए प्राधिकरण ने वापस मस्जिद को सफेद रंग से पेंट करा दिया था.

'मंदिर नहीं मॉल बना रही है BJP'

काशी विश्वनाथ कॉरिडोर के लोकार्पण को लेकर जबरदस्त तैयारी की जा रही है. पिछले दिनों कांग्रेस ने कशी विश्वनाथ कॉरिडोर पर निशाना साधा था. कांग्रेस नेता अजय राय ने कहा था कि कॉरिडोर निर्माण के दौरान देवताओं के विग्रहों, वटवृक्ष को भी हटा दिया गया. इन चीजों को ध्वस्त करके आधुनिक तरह से मॉल बना रहे हैं. 

कांग्रेस ने कहा कि भाजपा को लगता है कि राजनैतिक मार्केटिंग करके पूरे वाराणसी की जनता को भ्रमित कर लेंगे, जबकि काशी की जनता कण-कण में शंकर को पूजती है, मॉल में पूजा करने के लिए मोदी जी को सांसद नहीं चुना था, अब काशीवासी बाबा के दर्शन करने के बजाए कह रहें हैं कि चलो मॉल चला जाए. ये सोच रहें हैं कि 2022 चुनाव में इसकी मार्केटिंग कर लेंगे, लेकिन काशी के लोग अंदर से काफी दुखी और आहत हैं.

दो दिवसीय दौरे पर आएंगे पीएम मोदी

5 लाख 27 हजार 730 वर्ग फीट में बनकर तैयार हुआ काशी विश्वनाथ कॉरिडोर पीएम नरेंद्र मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट है. पीएम मोदी अपने इस ड्रीम प्रोजेक्ट को खुद अपने ही हाथों 13 दिसंबर को लोकार्पण करने वाले हैं और अन्य कार्यक्रमों में भी शरीक होने के मकसद से पीएम मोदी अपने दो दिवसीय दौरे 13 और 14 दिसंबर को वाराणसी आ रहे हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें