scorecardresearch
 

UP: चुनाव से पहले 'सब' ठीक करने में जुटी BJP, सरकार-संगठन दुरुस्त करने आ रहे बीएल संतोष

यूपी में सियासी फेरबदल की अटकलों के बीच सोमवार को बीजेपी राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष और प्रदेश प्रभारी राधामोहन सिंह सोमवार को लखनऊ पहुंच रहे हैं. प्रदेश बीजेपी कार्यालय में सभी छह क्षेत्रों के क्षेत्रीय अध्यक्षों, प्रदेश महामंत्रियों के साथ बैठक कर सूबे के सियासी नब्ज को समझने के कवायद करेंगे.

बीजेपी राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष बीजेपी राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बीजेपी प्रभारी राधा मोहन सिंह यूपी दौरे पर पहुंचेंगे
  • बीएल संतोष की बीजेपी नेताओं के साथ बैठक
  • एक सप्ताह से बीजेपी में बैठकों को दौर जारी है

उत्तर प्रदेश में सरकार से लेकर संगठन तक में सियासी फेरबदल की अटकलों के बीच सोमवार को बीजेपी राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष और प्रदेश प्रभारी राधामोहन सिंह सोमवार को लखनऊ पहुंच रहे हैं. प्रदेश बीजेपी कार्यालय में सभी छह क्षेत्रों के क्षेत्रीय अध्यक्षों, प्रदेश महामंत्रियों के साथ बैठक करने के साथ-साथ योगी सरकार के दो मंत्रियों के साथ भी मंथन कर सूबे के सियासी नब्ज को समझने के कवायद करेंगे. इतना ही नहीं अगले साले होने वाले विधानसभा चुनाव की रणनीति का खाका भी खींचेगे, जिसमें प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, महामंत्री संगठन सुनील बंसल सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहेंगे.

बीजेपी संगठन महामंत्री बीएल संतोष बैठक में प्रदेश के सभी छह क्षेत्रों में हुए सेवा कार्यों की समीक्षा करेंगे. इसके अलावा माना जा रहा है कि कोरोना की दूसरी लहर से उपजे असंतोष व प्रदेश पंचायत चुनाव नतीजों को लेकर पार्टी का शीर्ष नेतृत्व बहुत गंभीर है. 

दत्तात्रेय होसबले पिछले सोमवार को दो दिन के लखनऊ प्रवास पर पहुंचे थे. इस दौरान न तो सीएम योगी आदित्यनाथ और न ही बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह समेत किसी सियासी व्यक्ति से उन्होंने कोई मुलाकात नहीं की. हालांकि, संघ के नेताओं के साथ जरूर बैठकर सूबे की सियासी थाह नापकर वापस दिल्ली लौट आए थे. इसके बाद सूबे में सियासी फेरबदल के कयास लगाए जा रहे हैं. 

बीजेपी हाईकमान ने एक ओर जहां जिला पंचायत और क्षेत्र पंचायत अध्यक्षों के चुनाव जीतकर गांवों में फिर माहौल बनाने का लक्ष्य दिया है. इसके अलावा आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटने की भी दिशा-निर्देश दिए हैं.  इसी कड़ी में अब पार्टी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष, प्रदेश के बीजेपी प्रभारी राधा मोहन सिंह, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह और प्रदेश संगठन मंत्री सुनील बंसल के बीच होने वाली बैठक काफी अहम मानी जा रही है. 

बीएल संतोष के दौरे से पहले पार्टी के सभी क्षेत्रीय अध्यक्षों और प्रदेश के सभी महामंत्रियों को दिल्ली बुला लिया गया है. राधा मोहन सिंह और बीजेपी संतोष इन सारे नेताओं के साथ बैठक करने के साथ-साथ स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह और स्वास्थ्य शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना के साथ भी बैठक करेंगे.

दिल्ली से लेकर लखनऊ तक बीजेपी नेताओं की एक सप्ताह से बैठक के दौर जारी है, लेकिन अभी तक बड़ा कदम नहीं उठाया गया है. मौजूदा समय में योगी सरकार के मंत्रिमंडल में 7 जगह खाली है. चुनावी साल होने के चलते माना जा रहा है कि योगी सरकार अपने मंत्रिमंडल का विस्तार कर सामाजिक समीकरण साधने का दांव चला जा सकता. बीजेपी के प्रदेश की कोरग्रुप की सोमवार को शाम होने वाली बैठक में सरकार और संगठन को लेकर बड़े फैसले लिए जा सकते हैं. 

माना जा रहा है कि बीएल संतोष दो दिनों के बैठक में 2022 की सियासी जंग फतह करने के लिए बीजेपी प्रदेश में संगठन में व्यापक सुधार के लिए कदम उठा सकते हैं. इसके अलावा आगामी कार्यक्रमों के जरिए विधानसभा चुनाव की तैयारियों का रोडमैप तैयार किया जाएगा. इतना ही नहीं प्रदेश में जिला पंचायत अध्यक्ष और ब्लाक प्रमुख के चुनाव को लेकर भी रणनीति बनाई जानी है, 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह, प्रदेश संगठन मंत्री सुनील बंसल के बीच शनिवार को बैठक हुई थी, जिसमें यूपी के कम से कम 50 जिलों में जिला पंचायत अध्यक्ष बनाने के लिए प्लान बनाया गया है. पार्टी में आपसी गुटबाजी और किसी तरह के मतभेद से बचने के लिए बीजेपी जिला पंचायत अध्यक्ष के उम्मीदवारों के नाम आम सहमति से तय करेगी. खास तौर पर सांसद, विधायक और जिलाध्यक्ष के बीच सहमति बनाकर किसी एक उम्मीदवार का नाम को तय करेगी और उसे मजबूती के साथ पार्टी ने लड़ाने का फैसला किया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें